पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Fake Certificate Of Income Tax Fraud Of 100 Crores By Making Unemployed Agents Of 8 Districts As Agents

गिरफ्तारी:इनकम टैक्स के फर्जी सर्टिफिकेट से 8 जिलों के बेरोजगारों को एजेंट बनाकर की थी 100 करोड़ की धोखाधड़ी

शाजापुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी मदनसिंह और राजेश सिंह।
  • चिटफंड कंपनी के दो मैनेजर 4 साल बाद नोएडा और ग्वालियर से गिरफ्तार
  • आरोपी मोबाइल नंबर बदलते रहे, पुलिस ने 4 साल में 100 से ज्यादा नंबर ट्रेस किए, इसी से पकड़ में आए

आठ जिलों के एक हजार से अधिक निवेशकों से 100 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करने वाली बीपीएन ग्रुप की सनशाइन कंपनी के दो मैनेजरों को लालघाटी थाना पुलिस ने धरदबोचा। पुलिस के हत्थे चढ़े इन आरोपियों से चिटफंड कंपनी के फर्जीवाड़े के राज भी परत दर परत खुलते जा रहे हैं।

खास बात यह सामने आई कि चिटफंड कंपनी ने अपने कारोबार का केंद्र शाजापुर और सारंगपुर को बना रखा था, यहीं से आठ जिलों के 300 से ज्यादा बेरोजगार युवकों को पहले नौकरी का झांसा दिया और एक हजार से ज्यादा निवेशकों को 100 करोड़ रुपए की चपत लगाकर कंपनी मैनेजर गायब हो गए। कंपनी का मुख्य ऑफिस ग्वालियर के सिटी सेंटर में है। चार साल की घेराबंदी के बाद पुलिस को एक मैनेजर ग्रेटर नोएडा में किराना तो दूसरा ग्वालियर में कपड़े की दुकान संचालित करते मिला।पुलिस दोनों को पकड़कर शाजापुर लेकर आई और सात दिनों की रिमांड पर लिया है।

लालघाटी थाना प्रभारी मनीष दुबे ने बताया कि एसपी पंकज श्रीवास्तव के निर्देशानुसार चलाए जा रहे माफिया अभियान के तहत चिटफंड कंपनियों पर कार्रवाई की गई। थाने में दर्ज अलग अलग मामलों के दो आरोपी राधेश्याम पिता मदनसिंह निवासी भिंड को ग्रेटर नोएडा और राजेश सिंह पिता पानसिंह कुशवाह निवासी मुरार ग्वालियर को गिरफ्तार किया है। कार्रवाई में एसआई मुकुल यादव, आरक्षक सूर्यप्रताप सिंह, आरक्षक विकास तिवारी विक्रम मंडलोई, शिशुपाल गुर्जर टीम के रूप में काम करते हुए पहले ग्रेटर नोएडा पहुंचे, जहां राधेश्याम किराना दुकान संचालित करते मिला तो राजेश ग्वालियर में कपड़ों की दुकान चला रहा था।

दो जगह होता था कलेक्शन
शाजापुर व सारंगपुर (राजगढ़) को बीपीएन ग्रुप की सनशाइन कंपनी के अधिकारियों ने फर्जीवाड़े का केंद्र बना रखा था। सारंगपुर के बीच से होकर गुजरे एबी रोड पर पहले लग्जरी कार्यालय बनाया और आगर, शाजापुर, राजगढ़, देवास और सीहोर जिले के ग्रामीण स्तर तक काम करने वाले 300 से अधिक एजेंटों के जरिए निवेश शुरू कर दिया। इन एजेंटों द्वारा लोगों से किस्त और एकमुश्त एफडी राशि के रुपए शाजापुर और सारंगपुर में ही एकत्रित कर कंपनी मुख्यालय भेजी जाती थी।

मोबाइल बंद, ठिकाना भी बदला
फर्जीवाड़े की शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस के लिए इन आरोपियों को पकड़ना आसान नहीं था। एजेंटों सहित कंपनी के मैनेजरों ने अपने मोबाइल नंबर बंद कर अपना पता-ठिकाना ही बदल दिया, लेकिन दो साल में साइबर सेल प्रभारी दुबे ने अपनी टीम के साथ आरोपियों के परिजन, दोस्तों और कंपनी से जुड़े करीब 100 लोगों के मोबाइल नंबरों को ट्रेस करना शुरू कर दिया। मोबाइल नंबरों की ट्रैकिंग के आधार पर आरोपियों के संबंध में जानकारी सामने आने लगी और दोनों मैनेजर पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

बीपीएन ग्रुप के डायरेक्टर तक नहीं पहुंच रहे पुलिस के हाथ
बीपीएन ग्रुप के डायरेक्टर डीएस बघेल निवासी भिंड ने सनशाइन सहित कई फर्जी कंपनियां खोलकर देशभर में हजारों करोड़ रुपए की धोखाधड़ी की है। एक पुलिस अधिकारी के अनुसार इस कंपनी पर सैकड़ों प्रकरण थानों में दर्ज हैं। बावजूद पुलिस के हाथ अब तक कंपनी के डायरेक्टर बघेल तक नहीं पहुंच पाए। उज्जैन पुलिस ने कुछ समय पहले ही एक मुख्य संचालक धरम सिंह कुशवाह को गिरफ्तार किया था।

निवेशकों और एजेंटों को फंसाने के लिए ऐसे बिछाया जाल
भास्कर ने भी पूरे मामले की पड़ताल शुरू की। कंपनी ने 2009 में शाजापुर, राजगढ़, सीहोर, देवास, उज्जैन, आगर, धार सहित आठ जिलों के बेरोजगार युवकों को कंपनी में नौकरी का झांसा देकर निवेशकों को फांसने का काम शुरू कर दिया। करीब दो साल में एक हजार लोगों से करोड़ों रुपए का निवेश करवा लिया।

इन निवेशकों को दोगुना मुनाफा देने की बात पर विश्वास दिलाने के लिए कंपनी के दस्तावेजों पर भारत सरकार सहित असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ इनकम टैक्स सर्किल ग्वालियर का सर्टिफिकेट अपने ब्राउजर पर प्रकाशित करा दिया। इतना ही नहीं भाजपा और कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्रियों के साथ डायरेक्टर डीएस बघेल की फोटो वाला एलबम भी तैयार किया। इन्हीं को देख लोग फर्जी कंपनी के जाल में फंसते चले गए।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय पूर्णतः आपके पक्ष में है। वर्तमान में की गई मेहनत का पूरा फल मिलेगा। साथ ही आप अपने अंदर अद्भुत आत्मविश्वास और आत्म बल महसूस करेंगे। शांति की चाह में किसी धार्मिक स्थल में भी समय व्यतीत ह...

और पढ़ें