पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहत भरा मई:29 दिनों में संक्रमण दर 15 से 6.12% हुई, कल से अनलॉक, बिना वैक्सीनेशन के नहीं होगी शहर में एंट्री

शाजापुर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अप्रैल में 2924 केस, मई के पहले ही दिन से गिरने लगा ग्राफ, 1536 ठीक होकर घर पहुंचे

पड़ाेसी जिले में संक्रमण का एक भी मामला नहीं मिलना कोरोना से राहत देने वाला है, पर हमारे जिले के लोगों ने भी नियमों का पालन करते हुए संक्रमण को लॉक करना शुरू कर दिया। इसका नतीजा रहा कि अप्रैल माह के पहले दिन संक्रमण दर जो 15 प्रतिशत थी, वह गिर कर अब 6.12 प्रतिशत हो गई।

नियंत्रित होते संक्रमण को देख प्रशासन ने बाजार खोलने की तैयारी शुरू कर दी है, लेकिन अभी खतरा टला नहीं है, क्योंकि माह के आखिरी तीन दिनों में संक्रमण के 15 नए केस सामने आए हैं। ऐसे में यदि हमने पहली लहर के लॉकडाउन खुलने के बाद जो गलतियां की थी, वह इस बार भी हुई तो तीसरी लहर भारी पड़ेगी। कोविड सेल के अनुसार अप्रैल माह में संक्रमण का ग्राफ अपने उच्च स्तर तक पहुंच गया था। खासतौर पर 12 से लेकर 20 अप्रैल के 9 दिनों में ही 1684 संक्रमित सामने आए थे। संक्रमण की दर अप्रैल माह के खत्म होते होते 23 प्रतिशत तक पहुंची। कुल संक्रमण के मामले में 2942 तक पहुंच गए। जबकि मई माह के पहले ही दिन से संक्रमण के मामले कम होने लगे। आखिरी सात दिनों में तो संक्रमण का आंकड़ा 1 से 6 के बीच ही बना रहा। संकट प्रबंधन समूह की बैठक : संक्रमण को नियंत्रण में देखते हुए रविवार को जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समूह की बैठक में सांसद महेंद्रसिंह सोलंकी, कलेक्टर दिनेश जैन और एसपी पंकज श्रीवास्तव ने समूह सदस्यों से चर्चा करते हुए 1 जून से अनलॉक करने को लेकर गाइड लाइन पर अपने विचार रखें। इस दौरान खास बात यह सामने आई की गाइड लाइन का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

बैठक में निर्णय : इन शर्तों पर खुलेगा जनता कर्फ्यू
सांसद सोलंकी ने कहा कि जिला स्तर पर बनने वाली गाइड लाइन में किल कोरोना टीम कभी भी किसी भी समय कोई भी प्रतिष्ठान या संस्थान पर जा सकती है और नियमों का उल्लंघन करने वालो के विरुद्ध कार्रवाई कर सकती है। जिन ग्राहकों द्वारा मास्क नही पहना जा रहा हो उन्हें दुकानदार सामान नहीं दे। दुकानदार द्वारा यदि मास्क एवं सैनिटाइजर का उपयोग नहीं करने और दुकान में भीड़ होने पर उसे सील भी किया जाएगा।
5 से ज्यादा केस तो कंटेनमेंट एरिया घोषित कर बंद करेंगे
बाजार खोलने के पहले जिला प्रशासन ने संक्रमण को लॉक करने के लिए अपनी ओर से पूरी तैयारी कर ली है। इसमें सबसे बड़ी बात यह है कि ग्रामीण क्षेत्रों से शहरों में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को अनिवार्य रूप से टीकाकरण के उपरांत ही शहर में आने के अनुमित मिलेगी।

शहरों में तैनात पुलिस जवान वैक्सीनेशन की जानकारी भी ले सकते हैं। इधर 5 से अधिक कोरोना संक्रमण के प्रकरण आने पर संबंधित ग्राम पंचायत, ग्राम, वार्ड को कंटेनमेंट एरिया घोषित कर बंद कर दिया जाएगा।
धार्मिक स्थल पर 4 की अनुमति
इसी तरह जिले में किसी भी तरह की सामाजिक, राजनीतिक, खेलकूद, सांस्कृतिक, सार्वजनिक एवं धार्मिक कार्यक्रमों, धार्मिक आयोजनों आदि पर प्रतिबंध रहेगा। शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे, किंतु ऑनलाइन क्लासेस की अनुमति रहेगी।

सभी सिनेमा हॉल शॉपिंग काॅम्प्लेक्स, व्यायाम शाला, स्पाेट्र्स, जिम, स्वीमिंग पूल, थियेटर एवं आडिटोरियम, असेम्बली हॉल बंद रहेंगे। सभी प्रकार के धार्मिक स्थल, उपासना स्थल पर एक समय में 4 व्यक्तियों से अधिक उपस्थित नहीं रह सकेंगे। इन क्षेत्रों में राशन एवं किराने की दुकानें सुबह 7 से 11 बजे तक होम डिलेवरी के माध्यम से विक्रय कर सकेंगे।
मेहमानों की सूची देनी होगी
अनलॉक की गाइड लाइन के अनुसार अंतिम संस्कार में अधिकतम 10 व्यक्तियों को सम्मिलित होने की अनुमति रहेगी। शादी समारोह में दोनों पक्षों को मिलाकर 20 व्यक्तियों को अनुमति दी जाएगी। कार्यक्रम में कोरोना गाइड लाइन का पालन किया जाना अनिवार्य होगा। साथ ही आयोजक अपने क्षेत्र के अनुविभागीय दंडाधिकारी को अतिथियों की सूची आयोजन के पूर्व उपलब्ध कराएंगे।

खबरें और भी हैं...