पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निराकरण:5 साल बाद मिली कविता को कॉलेज की अलमारी से गुम हुई अंकसूची

शाजापुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • भास्कर ने मुद्दा उठाया तो लैब टेक्नीशियन बोले- स्नातकाेत्तर की मार्कशीट समझ रहा था

छात्रा कविता पिता रमेश चंद सोलंकी ने 2017 में बीए चतुर्थ सेमेस्टर में प्राइवेट छात्रा के रूप में बीकेएसएन कॉलेज में परीक्षा दी थी, जिसकी अंकसूची पास होने पर भी उनको नहीं मिली थी। इसके लिए उन्होंने विक्रम यूनिवर्सिटी और कॉलेज के इन 5 सालों में 100 से ज्यादा चक्कर लगाए।

जब भास्कर ने यह मुद्दा 19 फरवरी को उठाया तो उसी दिन प्रयोगशाला तकनीशियन प्रकाश राव शिंदे ने अपनी अलमारी से मार्कशीट खोजकर कविता को दे दी। इस पर कॉलेज का प्रबंधन और प्राचार्य भी स्तब्ध रह गए। उनके पास कविता को जवाब देने के लिए शब्द नहीं थे क्योंकि अपनी मार्कशीट प्राप्त करने के लिए कविता 18 फरवरी को शाम तक डटी रही।

वहीं मार्कशीट का आवेदन लिखते समय प्राचार्य के सामने रोई भी थी। मार्कशीट मिलने के बाद कविता खुश है परंतु उनकी स्नातकोत्तर की दो मार्कशीट अभी भी रुकी हुई है। इसमें राजनीति शास्त्र के तीसरे सेमेस्टर और चौथे सेमेस्टर की अंकसूची अभी नहीं मिली है, जिसमें वह उत्तीर्ण है। इसके लिए वह आवेदन लिख चुकी है और सीएम हेल्पलाइन में भी शिकायत कर चुकी है। विक्रम यूनिवर्सिटी द्वारा उनसे बोला गया है कि आप शिकायत वापस ले लो, हम मार्कशीट भिजवा रहे हैं।

कविता ने 2017 में बीए चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा दी थी

अप्रैल 2017 में कविता ने बीए चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा दी, जिसका रिजल्ट जून में आया। जिसमें वह पास हुई, परंतु मार्कशीट में एनसी दिया गया। उन्होंने विवि में 11 दिसंबर 19 को रिकॉर्ड अपडेट करवाते हुए एनसी हटवाया। परंतु 1 साल बाद भी मार्कशीट नहीं मिली।

इसके बाद वह फिर विवि गई, वहां मार्कशीट की फोटो कॉपी पर रजिस्टर के सील लगाकर यह लिखकर दिया गया कि उक्त छात्रा की मार्कशीट क्रमांक 223 से स्पीड पोस्ट नंबर EI11391l715 से 15 अक्टूबर 20 को मार्कशीट भेज दी गई है। यहां आकर पता चला कि मार्कशीट यहां पहुंची नहीं है।

स्नातक की गुम हुई मार्कशीट मिल गई

प्रकाश राव शिंदे प्रयोगशाला तकनीकीशियन ने बताया कि मेरे द्वारा रजिस्टर चैक कर लिए गए परंतु अंकसूची मिल नहीं रही थी मुझे लगा कि छात्रा स्नातकोत्तर की मार्कशीट मांग रही है क्योंकि उसकी स्नातकोत्तर के तीसरे और चौथे सेमेस्टर की मार्कशीट भी नहीं आई। बाद में स्नातक की गुम हुई मार्कशीट मिल गई, जो छात्रा को दे दी गई है।

छात्रा को हुई परेशानी से दु:खी हूं

इस घटनाक्रम से दु:खी हूं क्योंकि छात्रा को परेशानी हुई हैं। स्नातक की मार्कशीट लैब तकनीशियन के अलमारी से मिलने के बाद उनसे जवाब मांगा गया है। जवाब के बाद एक्शन लिया जाएगा। छात्रा की स्नातकोत्तर मार्कशीट के लिए आवेदन लिख दिया है। जल्द ही उसे स्नातकोत्तर की अंकसूची भी दिलवा देंगे।

-आरकेएस राठौर, प्रभारी प्राचार्य बीकेएसएन कॉलेज

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें