पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शाजापुर में कौओं की माैत:बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद भी हाट बाजार में खुलेआम बिक रहा मांस, अंडे और मुर्गियां

शाजापुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अधिकारी बोले- अवकाश होने के कारण कार्रवाई का पत्र जारी नहीं करा सके

कोविड-19 के संक्रमण के बीच अब जिले में बर्ड फ्लू का खतरा भी खड़ा हो गया। ऐसे ही संकेत पिछले दिनों कौओं की मौत के रूप में दिखाई दिए थे। शनिवार देर रात इसकी पुष्टि भी हो गई। पशु चिकित्सा विभाग ने संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए एडवाइजरी भी जारी कर दी, पर रविवार दोपहर तक नपा, राजस्व और पशु चिकित्सा एवं सेवा विभाग का अमला कार्रवाई के लिए नहीं उतरा। नतीजतन शहर के हाट बाजार में मांस, अंडे और मुर्गियां खुलेआम बिकती रही। अधिकारियों ने तर्क दिया कि अवकाश दिवस होने के कारण कार्रवाई का पत्र जारी नहीं होने के कारण कार्रवाई नहीं हो पाई।

पशु चिकित्सा एवं सेवा विभाग उपसंचालक ए.के. बरेठिया ने बर्ड फ्लू की पुष्टि करते हुए बताया कि फिलहाल बर्ड फ्लू की पुष्टि केवल कौआ प्रजाति के पक्षियों में ही हुई है। मुर्गियों में अभी बर्ड फ्लू नहीं है। संक्रमण को रोकने के लिए एडवाइजरी जारी कर दी गई है। अब पोल्ट्री फार्म और चिकन-मटन सेंटर पर बिना मास्क और सैनिटाइजर जैसी व्यवस्थाओं के बिना मांस और अंडों की बिक्री नहीं होगी। निर्देश का पालन नहीं करने वालों पर कार्रवाई भी की जाएगी। भोपाल से आई रिपोर्ट के बाद कंट्रोल रूम की स्थापना कर दी गई है। इस पर आगामी दिनों में पक्षियों की मौत और संक्रमण से संबंधित जानकारी के साथ स्थानीय जिम्मेदारों को निर्देश मिलेंगे। फिलहाल संक्रमण एच5-एन8 स्तर पर है, जो पक्षियों पर ही असर कर रहा है।

जिलेभर में 22 से ज्यादा पोल्ट्री फार्म को लाइसेंस 25 हजार मुर्गियां पल रही, अब तक 90 पक्षी मरे
ज्ञात रहे जिलेभर में करीब 22 से ज्यादा पोल्ट्री फार्म को लाइसेंस जारी किए थे। इन पोल्ट्री फार्म में 25 हजार से ज्यादा मुर्गियां पल रही है। यदि मुर्गियों में संक्रमण फैला तो एकदम से बर्ड फ्लू का बम फूट जाएगा। पशु चिकित्सा विभाग के अनुसार उन्हें क्षेत्र में अब तक 90 पक्षियों की मौत की जानकारी सामने आई है। जबकि स्थानीय लोगों के अनुसार शाजापुर, सापखेड़ा, बादशाह पूल क्षेत्र में ही करीब 150 से ज्यादा पक्षियों की मौत हुई है। पक्षियों की मौत के आंकड़े को लेकर अधिकारी बरेठिया ने बताया कि हमारे पास आने वाली सूचना के ही आकड़े तैयार किए गए हैं। इधर बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद जिलेभर में हड़कंप है। इसके बाद भी अधिकारियों की कार्रवाई सुस्त चाल दिखाई दी। रविवार को बिना सुरक्षा के शहरी हाट बाजार में बेखौफ व खुलेआम मांस, अंडे और मुर्गियां बेची जा रही थी।

एच5-एन1 स्तर का संक्रमण मनुष्यों के लिए खतरा
उपसंचालक बरेठिया ने बताया कि फिलहाल संक्रमण एच5-एन8 स्तर पर पाया गया। जबकि एच5-एन1 स्तर पर पहुंचने पर यह मनुष्यों के खतरा बन जाता है। यह संक्रमण इंसान से इंसान में आसानी से प्रसार नहीं करता, लेकिन जो लोग संक्रमित पक्षियों के बीच काम करते हैं या बिना पकाए या अधपका मुर्गा या बतख का सेवन करते हैं, उन्हें बर्ड फ्लू का खतरा ज्यादा होता है।

बिना पका या अधपका मुर्गा या अंडा खाने से बचें
बरेठिया के अनुसार संक्रमित मुर्गे या बतख के करीबी संपर्क में आने वाले स्रोतों से बचें। बिना पका या अधपका मुर्गा या अंडा खाने से परहेज करें। उच्च ताप पर पकाने से वायरस मर जाता है। अगर आप पक्षियों के सीधे संपर्क में आ चुके हैं तो डॉक्टर की सलाह के अनुरूप इनफ्लूएंजा वायरस दवाओं का एहतियाती उपाय के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें