पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ट्रेन का स्टॉपेज बना रहेेगा:26 दिनों बाद फिर रुकेगी ट्रेनें, पहले इंदौर-अमृतसर और दो दिन बाद इंदौर-चंडीगढ़ एक्सप्रेस आएगी

शाजापुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आज सबसे पहले खुश खबर शहर के लोगों के लिए। हाशिए पर चढ़ी रेल सुविधाओं को भास्कर ने खत्म होने नहीं दिया। जनता की आवाज को मुद्दा बनाकर न सिर्फ सामाजिक संगठनों के साथ जनप्रतिनिधियों को जिम्मेदारी याद दिलाई बल्कि शहर के लोगों की दिल की बात क्षेत्रीय सांसद महेंद्र सोलंकी के जरिए संसद तक भी पहुंचाई। इसका इंपेक्ट यह हुआ कि आज से ही शहर के रेलवे स्टेशन पर एक बार फिर से एक्सप्रेस ट्रेनों के पहिए थमने शुरू हो जाएंगे।

पहले दिन इंदौर-अमृतसर ट्रेन और दो दिन बाद यानी 25 फरवरी को इंदौर-चंडीगढ़ ट्रेन शहर के रेलवे स्टेशन पर रुकेगी। पश्चिम रेलवे ने सोमवार को 6 स्पेशल ट्रेनों के संचालन की सूचना जारी कर दी। इसमें शाजापुर जिले में तीन ट्रेनाें का स्टापेज जिले के मुख्य स्टेशनों पर किया गया। जारी सूचना के अनुसार बीना-मक्सी ट्रेन से इंदौर अमृतसर ट्रेन 23 फरवरी से शुरू होगी, जो शाजापुर स्टेशन पर 10.18 बजे पहुंचेगी।

इसके बाद 25 फरवरी को इंदौर-चंडीगढ़ ट्रेन का फेरा लगेगा। यानी अब शहर के स्टेशन पर तीन ट्रेनों का स्टापेज होगा। ओखा गोरखपुर ट्रेन का स्टापेज भी यथावत है। ट्रेनों की सुविधाओं को एक बार फिर से बहाल होते देख शहर के लोगों ने जनप्रतिनिधियों सहित मुद्दे को आंदोलन बनाने वाले सामाजिक संगठन और समाजसेवियों के साथ भास्कर का धन्यवाद भी दिया।

ऐसे शुरू हुआ रेल सुविधाओं की बहाली का आंदोलन

27 जनवरी को खबर आई कि शहर के रेलवे स्टेशन पर साबरमती ट्रेन का स्टापेज भी बंद कर दिया गया। यह बुरी खबर सामने आते ही भास्कर ने शहर के लोगों की आवाज बनकर पहले ही दिन खबरें प्रकाशित करना शुरू कर दिया। सीधे रेलवे के अधिकारियों से बात की और रेल सुविधाओं की बहाली के लिए मुद्दा खड़ा कर दिया।

इसके बाद सामाजिक कार्यकर्ता जो बीते 30 सालों से रेल सुविधाओं के लिए आवाज उठाते रहने वाले किशोरसिंह दरबार ने डीआरएम से लेकर रेल मंत्री तक को स्टापेज की मांग का आवेदन दे दिया। सामाजिक सरोकार से जुड़े इस मामले में ब्राह्मण समाज के विनित वाजपेई सहित वरिष्ठ समाजजनों ने भी इसे लेकर आंदोलन को गति दे दी। गाेरक्षकों ने रेल मंत्री को पोस्टकार्ड लिखे तो युवा एडव्होकेट रितेश शर्मा ने सोशल मीडिया के जरिए रेलवे के अधिकारियों तक शहर के लोगों की आवाज पहुंचाई।

स्टॉपेज के लिए ब्लाॅक कांग्रेस ने दी थी आंदोलन की चेतावनी

रेल सुविधाओं को पुन: बहाल कराने के लिए शुरू हुए आंदोलन के महज 6 दिनों के अंदर ही राजनीतिक पार्टियों ने भी अपने कदम आगे बढ़ाना शुरू कर दिए। आप पार्टी के जिया लाला रेल मंत्री को ट्वीट पर ट्वीट करते रहे। वहीं ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष इरशाद खान के नेतृत्व में स्टेशन पर पहुंचे कार्यकर्ताओं ने रेल सुविधाओं की मांग करते हुए आंदोलन तक की चेतावनी दे डाली।

जनता की दिल की आवाज सांसद ने पहुंचाई संसद तक

जनता की आवाज को मुद्दा बनाने के बाद भास्कर के इस अभियान में वैश्य सामाज के साथ मां वैष्णोदेवी भक्त मंडल ने भी आहुतियां डाली। 26 दिनों के अंदर करीब 15 से ज्यादा बार जनप्रतिनिधियों और रेलवे अधिकारियों को ज्ञापन सौंपे गए।

पूर्व विधायक अरुण भिमावद ने केंद्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत को पत्र लिखा तो पूरे मामले में क्षेत्रीय सांसद महेंद्र सोलंकी तक भास्कर ने शहर के लोगों के दिल की आवाज पहुंचाई तो उन्होंने भी 12 फरवरी को उन्होंने स्पीकर ओम बिरला के सामने रेल सुविधाओं काे लेकर अपना पक्ष रख जल्द से जल्द स्टापेज बहाल कराने की बात संसद के पटल पर रखी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें