पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राज्यपाल बोले:प्रदेश के कोने-कोने में जाकर ग्रामीणों की परिस्थितियां देखकर जानकारी लेंगे

शाजापुर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बेटी अमृता के नाम निवास का नाम रखने वाले परिवार में किया भोजन। - Dainik Bhaskar
बेटी अमृता के नाम निवास का नाम रखने वाले परिवार में किया भोजन।
  • पीएम आवास का नाम बेटी के नाम पर रखा, घर पहुंचे महामहिम, परिवार के साथ भोजन किया

बच्चों में विकलांगता का कारण माता के पोषण में या उसके स्वास्थ में कुछ कमी होना है। देश में स्वस्थ बच्चे जन्म लें, इसके लिए माताओं के स्वास्थ की देखभाल जरूरी है। सरकार बच्चों के पोषण, माताओं की देखभाल आदि के लिए आंगनवाड़ी केन्द्रों के माध्यम से कार्यक्रम चला रही है। क्योंकि वही देश प्रगति कर सकता है, जहां के लोग स्वस्थ्य हो। यह बात ग्राम जेठड़ा में राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कही।

उन्होंने आम लोगों से आह्वान करते हुए कहा देश की उन्नति के लिए समाज अपना योगदान दें। गांव के पढ़े-लिखे युवा तथा सामाजिक संस्थाएं और कार्यकर्ता सबकी जिम्मेदारी हंै कि वे घर-घर जाकर सरकार की योजनाओं के बारे में बताएं। कार्यक्रम का शुभारंभ राष्ट्रगान के साथ हुआ और इसके बाद 5 कन्याओं प्रतिभा, यशस्वी, आयुषी, मानवी और अर्चिता का पूजन किया गया। मंच पर स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री व शुजालपुर विधायक इंदर सिंह परमार, जिले के प्रभारी मंत्री बृजेंद्र सिंह यादव भी उपस्थित थे।

राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने ग्राम जेठड़ा में सार्वजनिक उपयोग के लिए पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा बनाए गए स्वच्छता परिसर का अवलोकन भी किया। इस स्वच्छता परिसर में पुरूष एवं महिलाओं के साथ-साथ थर्ड जेंडर के लिए भी अलग-अलग व्यवस्थाएं की गई है। लाड़ली लक्ष्मी योजना के तहत पुत्री निधि दामोदर-संगीता, आरोही अजीत-आरती एवं प्रियदर्शनी विजेन्द्र-कविता को प्रमाण-पत्र वितरित किए।

राज्यपाल पटेल ने अमृता निवास में भोजन ग्रहण किया
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बेटी के नाम पर निर्मित “अमृता निवास” पर राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने बेटी एवं उसके परिवार के सदस्यों के साथ भोजन ग्रहण किया। इस दौरान राज्यमंत्री इंदरसिंह परमार, जिला प्रभारी मंत्री बृजेन्द्र सिंह यादव तथा अम्बाराम कराड़ा ने भी भोजन ग्रहण किया। भोजन ग्रहण के दौरान राज्यपाल ने परिवार के सदस्यों से कुशलक्षेम पूछा। साथ ही उन्होंने बेटी अमृता उसके परिवार के सदस्यों को फलों की टोकरी भी भेंट की।

ग्रामीण खुशहाल होंगे, तभी हमारा देश उन्नति करेगा
हमारे देश की आत्मा गांवों में बसती है। देश के विकास में गांवों की महति भूमिका है। गांव विकसित एवं ग्रामीण खुशहाल होंगे, तभी हमारा देश उन्नति के पथ पर आगे बढ़ेगा। यह बात प्रदेश के राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कही। सरकार लगातार गांवों के उन्नति के प्रयास कर रही है। ग्राम जेठड़ा में भी सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के तहत विभिन्न कार्य हुए हैं, जिनमें से कुछ हितग्राहियों को योजनाओं के हितलाभ का वितरण किया गया है। हितलाभ प्राप्त करने वाले सभी हितग्राहियों को राज्यपाल ने बधाई देते हुए कहा कि वे आशा करते हैं कि योजनाओं का लाभ पाकर वे आगे बढ़ेंगे।

जेठड़ा की आंगनवाड़ी केंद्र का निरीक्षण किया
राज्यपाल ने ग्राम जेठड़ा की आंगनवाड़ी केन्द्र का भी निरीक्षण किया। यहां उन्होंने बच्चों से उनकी शिक्षा एवं खेल गतिविधियों के बारे में पूछा। उपस्थित बच्चों को टॉफी वितरित की एवं फलों की टोकरी भेंट की। ग्राम जेठड़ा आगमन पर राज्यपाल ने कहा कि यहां आकर खुशी हो रही है। वे प्रदेश के कोने-कोने में जाकर ग्रामीणों की और गांवों की परिस्थितियां देखेंगे और लोगों से मिलकर उनकी जानकारी लेंगे।

महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास
सरकार महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए जोर दे रही है, इसका जीता-जागता सबूत है कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत जितने भी आवास स्वीकृत हुए हैं, उनमें माता एवं बहनों के नाम हैं। प्रधानमंत्री जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब उन्होंने एक नया प्रकल्प दिया था, जिसमें जमीनों के दस्तावेजों में महिलाओं के नाम भी शामिल किए थे, इससे महिलाओं की घर और समाज में बेहतर स्थिति बनी।

खबरें और भी हैं...