अभियान / शुजालपुर में आज से किल कोरोना मिशन शुरू, 8 दल करेंगे 4 हजार लोगों की स्क्रीनिंग

Kill corona mission starts in Shujalpur from today, 8 teams will screen 4 thousand people
X
Kill corona mission starts in Shujalpur from today, 8 teams will screen 4 thousand people

  • विधायक इंदर सिंह परमार सिविल अस्पताल में आज सुबह 9 बजे करेंगे मिशन का शुभारंभ
  • तैयारी: टीम को बताया कैसे करना है जांच

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 06:20 AM IST

शुजालपुर. आज से शुजालपुर नगर के 25 वार्डों में स्वास्थ्य विभाग के 8 दल के 32 कर्मचारी प्रतिदिन 800 घरों के 4 हजार लोगों की हेल्थ स्क्रीनिंग करेंगे। किल कोरोना अभियान की शुरुआत आज सुबह सिविल अस्पताल से विधायक इंदर सिंह परमार के आतिथ्य में होगी। बुखार से पीड़ित व्यक्ति के लक्षणों का परीक्षण कर कोविड-19 के संदिग्धों की सूची बनाकर उनका उपचार किया जाएगा।
मंगलवार को सिविल अस्पताल परिसर में डेढ़ घंटे तक चली बैठक में अस्पताल के प्रभारी डॉ. राजेश तिवारी ने 8 दल गठित कर दल में शामिल सभी 32 कर्मचारियों को अभियान संचालित करने की ट्रेनिंग दी। इस दौरान सभी को बताया गया कि कोविड-19 रोक वैश्विक स्तर पर फैला हुआ है तथा इसके बचाव और रोकथाम के लिए प्रदेश स्तर पर व्यापक रूप से बचाव में नियंत्रण कार्य किए जा रहे हैं। इसके लिए प्रदेश में फीवर क्लीनिक संचालित कर बुखार के रोगियों का परीक्षण कर उनकी कोविड-19 मलेरिया या डेंगू रोग से संबंधित जांच भी अनिवार्य रूप से की जाना है।

लोगों को बीमारी से बचाने में जागरूक करने के लिए 1 से 15 जुलाई तक शुजालपुर में यह स्पेशल फीवर स्क्रीनिंग कैंपेन संचालित होगा। इसके तहत चार स्वास्थ्य कर्मियों वाला एक दल प्रतिदिन 100 घरों में जाकर औसतन हर दिन 500 लोगों की स्क्रीनिंग करेगा। इस तरह 8 दिन शहर में प्रतिदिन करीब 4 हजार लोगों की हेल्थ स्क्रीनिंग कर डेटा जुटाया जाएगा। अभियान में घर-घर जाने का जिम्मा स्वास्थ्य विभाग द्वारा गठित की गई दल में शामिल आशा-आंगनवाड़ी कार्यकर्ता को पायलट के रूप में दिया गया है। बुखार, डायरिया, गर्भवती महिलाओं तथा अन्य टीकाकरण से शेष बच्चों की जानकारी भी प्राप्त करेंगे।

कोरोना किल के लिए ये होंगे संसाधन
कोरोना कील के लिए शहर में उतरने वाले दल के पास पल्स ऑक्सीमीटर, नान कांटेक्ट थर्मामीटर या इंफ्रारेड थर्मामीटर होगा, जिससे यह शारीरिक तापमान लेंगे। इसके अलावा ट्रिपल लेयर, मेडिकल फीवरक, सर्जिकल ग्लव्स, कॉटन, सैनिटाइजर, रिकॉर्ड मेंटेन करने के लिए स्टेशनरी, बायो मेडिकल वेस्ट कलेक्शन बैग, रैपिड डायग्नोस्टिक किट, क्लोरोक्वीन व प्राइमा क्वीन टेबलेट, एसीटी कि, पेरासिटामोल टेबलेट, रिपोर्टिंग प्रपत्र, सामान्य प्रश्नोत्तरी का प्रपत्र होगा।
इन सवालों के जवाब लेगा दल
प्रत्येक सदस्य के बारे में बीते 7 दिन में बुखार या बुखार के साथ अन्य लक्षणों की बीमारी होने के संबंध में जानकारी लेकर नोट करेंगे। इसके अलावा बीते 7 दिनों में घर का कोई सदस्य यात्रा से आया है तो उसकी भी जानकारी ली जाएगी। परिवार में यदि कोई संक्रमित सदस्य के संपर्क में आया हो तो वह भी प्रपत्र में नोट किया जाएगा। बुखार, सर्दी, खांसी, सांस लेने में तकलीफ, गले में खराश वाले वे रोगी जिन्हें शुगर, ह्रदय रोग की समस्या के अलावा कैंसर या हाइपरटेंशन की समस्या है, उनकी विशेष जानकारी ली जाएगी।

अलग-अलग श्रेणियों में जुटाया जाएगा डेटा
श्रेणी-1  जो भी व्यक्ति बुखार से पीड़ित मिलेगा, उसके बुखार की तीन श्रेणियों में जानकारी लेकर दर्ज की जाएगी। यदि 10 दिन से खांसी और सांस लेने में कठिनाई के साथ बुखार होगा, गले में खराश व दर्द होगा तो उसे कोविड-19 का संभावित रोगी मान सर्वे दल द्वारा निर्धारित प्रपत्र में जानकारी भरी जाएगी। इसके बाद उसे फीवर क्लीनिक में भेजने की सलाह दी जाएगी। रोगी यदि बीते 7 दिनों में किसी कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आए हैं, तो उनकी ट्रैवल हिस्ट्री जुटाने का काम भी यही दल करेगा।
 श्रेणी-2 दूसरी श्रेणी में यदि व्यक्ति को बुखार के साथ कंपकंपी, सिर दर्द, उल्टी, कमजोरी, चक्कर आना तथा पसीना आकर बुखार उतरने जैसा लक्षण होंगे। तो उसे मलेरिया का संभावित रोगी मानकर इलाके की एएनएम याने बहुउद्देशीय स्वास्थ्य कार्यकर्ता को उसी जानकारी दी जाएगी इसके बाद उसकी मलेरिया संबंधी जांच कर उपचार दिया जाएगा।

 श्रेणी-3 तेज बुखार के साथ यदि व्यक्ति आंखों के पीछे दर्द, मांसपेशियों और सिर में तेज दर्द, शरीर पर लाल चकत्ते होने के लक्षण से पीड़ित मिलता है, तो वह डेंगू का रोगी माना जाकर उसे फीवर क्लीनिक में ले जाकर उसे परामर्श दिया जाएगा। इसके साथ ही बुखार की अवधि के आधार पर एनएस वन या मैक एलाइजा की जांच कराने के लिए 

 श्रेणी-4 अन्य बुखार के रोगी जिनमें बुखार के अलावा कोई अन्य लक्षण नहीं होगा, ऐसे व्यक्तियों को भी फीवर क्लिनिक में परामर्श के लिए भेजा जाएगा, ताकि वे अपने शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बनाए रखकर संक्रमण से बचने के लिए शरीर को तैयार रख सके।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना