पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बुजुर्ग व दिव्यांग परेशान:बुजुर्गों-दिव्यांगों के लिए शुरू हुई मोबाइल वैन बंद; सिविल अस्पताल प्रभारी बोले 7 दिन के लिए थी मोबाइल वैन सेवा

शुजालपुर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना बचाव की वैक्सीन न लगाने के महाअभियान में दिव्यांगों-बुजुर्गों को घर जाकर स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा मोबाइल वैन से टीके लगाने के स्कूल शिक्षामंत्री ने हरी झंडी दिखवा रवाना हुई वेन की सेवा बंद होने बुजुर्ग व दिव्यांग परेशान हैं।

जिला प्रशासन ने दिव्यांगों को, बुजुर्गों को घर जाकर कोरोना बचाव की वैक्सीन लगाने के लिए चलित मोबाइल टीम गठित कर वाहन को स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार से एक्सीलेंस स्कूल में हरी झंडी दिखवा काम पर लगाया था। कुछ दिन तक इस वैन ने शहर में जाकर काम भी किया, लेकिन बीते कई दिनों से यह मोबाइल वैन अपनी सेवा नहीं दे रही।

मंडी इलाके के निवासी अन्नू बड़ोने ने बताया उनकी माताजी को लकवा है तथा उन्होंने जिला प्रशासन द्वारा जारी किए गए नगरपालिका के जिम्मेदार कर्मचारी के नंबर पर कई बार फोन लगाकर अपनी माताजी की स्थिति बताते हुए मोबाइल वैन के माध्यम से टीकाकरण कराने की जानकारी नोट कराई, लेकिन आज तक वैक्सीनेशन के लिए उन्हें संपर्क नहीं किया गया है।

इसी तरह दिव्यांग चेतन ने बताया वह भी संबंधित नंबर पर फोन लगा चुका है, लेकिन उसे टीका नहीं लगा। दिव्यांग चेतन ने बताया कि वैक्सीनेशन सेंटर पर भी गया, लेकिन लोगों की भीड़ देखकर ही वापस आना पड़ा। इस संबंध में नगर पालिका के महेश डागा ने बताया स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा ही मोबाइल वैन अपने हिसाब से ले जाकर अपने स्तर पर टीकाकरण किया गया था।

उनके पास दिव्यांगों-बुजुर्गों के लिए फोन जरूर आए, लेकिन वैक्सीनेशन कराने वाली वैन का नियंत्रण स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने अपने पास रख रखा है। इस संबंध में सिटी सिविल अस्पताल के प्रभारी डॉ. राजेश तिवारी से चर्चा की गई तो उन्होंने बताया कि दिव्यांगों, बुजुर्गों के लिए संचालित की गई मोबाइल वैन सेवा केवल 7 दिन के लिए शहर में लागू होना बताया गया था।

आज मंडी सिटी में लगेंगे 12 सौ टीके
15 जुलाई गुरुवार को शुजालपुर मंडी के एक्सीलेंस स्कूल में कोवैक्सीन के पहले डोज के 400 तथा इसी तरह सिटी के बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में कोवैक्सीन के 400 डोज लगेंगे। कोवैक्सीन के दूसरे डोज के टीके चार सौ की संख्या में केवल युवराज क्लब सिटी सिविल अस्पताल के सामने ही लग सकेंगे।

खबरें और भी हैं...