• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Umaria
  • Ranger's Attitude Changed As Soon As The Investigation Started On The Charge Of Illegal Sand murmur, Engaged In Small Actions To Appear Honest

डैमेज कंट्रोल:रेत-मुरूम के अवैध खनन के आरोप में जांच शुरू होते ही रेंजर का ढर्रा बदला, ईमानदार दिखने के लिए छोटी कार्रवाईयों में लगे

उमरिया11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

उमरिया। जिले के नौरोजाबाद वन परिक्षेत्र के सजनिया सर्किल अंतर्गत बघवार बीट से वन अमले द्वारा बेशक़ीमती सागौन लकड़ी की सिल्लियां बरामद की गई। इस कार्रवाई से तो बेशकीमती लकड़ी को जप्त कर लिया गया, लेकिन न जाने कितने पेड़ इस पर कुर्बान हुए होंगे। आलम यह है कि6 यदि समय रहते इन पेड़ों को बचाया गया होता, तो वन विभाग के लिए यह कार्यवाई काबिल-ए-तारीफ़ होती। रेंजर पर आरोप है कि लाखों रुपये के रेत मुरुम खनन कराकर 17 नग सिल्लियां पकड़कर डैमेज कंट्रोल कर रहे रहे हैं, वह सवालों के घेरे में हैं।

यह किया विभाग ने : वन विभाग को 10 - 11 जनवरी की दरमियानी रात कुछ लोगों द्वारा पड़ोसी जिला डिंडौरी सागौन की सिल्लियां ओमनी वाहन में लोड कर ले जाने की सूचना दी गई, जिसके बाद वन अमले द्वारा ओमनी वाहन MP51BB1072 मे लोड 17 नग सागौन की सिल्लियों सहित दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। वन विभाग द्वारा गिरफ्तार किए गए दो आरोपी किशोरी लाल साहू और चंद्रमणी साहू निवासी बरगांव जिला डिडौंरी बताए गए।

विवादों में घिरे रेंजर :- डेढ़ वर्ष पहले उमरिया वन मंडल के नौरोजाबाद रेंज में तालाब के नाम पर हजारों ट्रक मुरुम खोदकर बेच दी गई थी। लेकिन बमुश्किल इस मामले में नौरोजाबाद रेंज में पदस्थ रेंजर पप्पू वास्केल के विरुद्ध अब जाकर विभागीय जांच शुरू हुई है। रेंजर को नोटिस दिया गया है। रेंजर पर अवैध उत्खनन मे लापरवाही का आरोप है। सूत्रों के एन एच 43 के निर्माण के समय नौरोजाबाद वन परिक्षेत्र के क्षेत्र मे बडे क्षेत्र मे अवैध मुरुम और मिट्टी का उत्खनन हुआ था।
विभाग के शहडोल संभाग के मुख्य वन संरक्षक पीके वर्मा ने बताया कि उत्खनन मामले मे नौरोजाबाद रेंजर पप्पू वात्सेल की विभागीय जांच शुरु हो गई है।वही रेंजर पप्पू वात्सेल से बात करने का प्रयास किया गया तो दो बार कॉल किया गया लेकिन कॉल रिसीव नही किया गया।

खबरें और भी हैं...