बारिश से खुशी, जलभराव ने परेशानी बढ़ाई:नगर पालिका के दावों की पोल खुली, किसानों के चेहरे खिल उठे

विदिशा2 महीने पहले

विदिशा में बीते सप्ताह से उमस भरी गर्मी से परेशान लोगों को राहत मिली, जब मंगलवार को काली घटा के साथ बारिश होने लगी। तेज बारिश होने से जहां लोगों को उमस से राहत मिली तो वहीं कई क्षेत्रों में जलभराव देखने को मिला। इससे किसानों के चेहरे खिल उठे।

मंगलवार को हुई तेज बारिश ने नगर पालिका के खोखले दावों की पोल खोल कर रख दी, कई स्थानों पर पानी भराव हो गया था जिससे राहगीरों और वाहन चालकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

गल्ला मंडी गेट के आसपास नाले का पानी सड़कों पर आ गया, एक नाले के उपर कई क्षेत्रों के पानी का दबाव रहता है। जिससे जरा सा पानी गिरने से नाली और नालों का पानी सड़कों पर बहने लगता है। यहां के रहवासियों को जल भराव से जूझना पड़ता है।

यहां के लोगों का कहना है कि वर्षों से यहां ऐसी ही स्थिति है जनप्रतिनिधि ध्यान नहीं देते, बरसात में हमें भारी मुसीबत होती है। यहां की सबसे बड़ी समस्या नाले की है। जनप्रतिनिधि हर बार नाला निर्माण करने की बात करते है लेकिन चुनाव जीतने के बाद सब भूल जाते है। कुछ यही हाल नीमताल क्षेत्र का है। वर्षों से जरा सी बारिश के दौरान ही नाली का पानी सड़कों पर बहने लगता है। घरों और दुकानों में पानी भरने लगता है। कई बार शिकायतें हैं लेकिन उसका नतीजा कुछ नहीं निकला।

उल्लेखनीय है कि शहर के कई क्षेत्रों में यही हाल होता है, जरा से पानी में जलभराव की स्थिति बन जाती है, लेकिन नगर पालिका कोई पुख्ता इंतजाम नहीं करती, जिसका खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ता है। नालों पर कई क्षेत्रों के पानी का दबाव होने के कारण और बरसात से पूर्व नालों की सफाई नहीं होती, जिससे जलभराव की स्थिति बन जाती है।