प्रसव के 10 दिन बाद हुई महिला की मौत:परिजनों ने 4 बच्चों को पालने के लिए लगाई प्रशासन से मदद की गुहार

विदिशा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

विदिशा के एक परिवार में 10 दिन पहले खुशियां आई थीं, लेकिन उनकी खुशियां मातम में बदल गईं। 27 साल की रानी पत्नि हलकई सहरिया की देर शाम अचानक तबीयत बिगड़ गई। तबीयत बिगड़ने के बाद उसे गंजबासौदा अस्पताल लाया गया। हालात में सुधार न होने के कारण जिला अस्पताल रेफर किया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतका का पीएम कराया गया। वहीं परिजनों ने बच्चों के लालन-पालन के लिए शासन से मदद की गुहार लगाई है।

बरेठ के पास आजाद नगर में रहने वाली 27 वर्षीय रानी पत्नि हलकई सहरिया ने 18 तारीख के लगभग उदयपुर अस्पताल में एक बच्ची को जन्म दिया था। इस दंपती की यह चौथी संतान थी। प्रसव के बाद जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ थे, लेकिन प्रसव के करीब 8 दिन बाद रानी की तबीयत अचानक बिगडऩे लगी। तबीयत ज्यादा बिगडऩे पर उसे गंजबासौदा अस्पताल लाया गया। जहां से विदिशा जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। दोपहर को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने पोस्टमार्टम करा कर शव परिजन को सौंप दिया। हलकई ने बताया कि वह खेतों में मेहनत मजदूरी कर परिवार का गुजर बसर करता है। पत्नी की मौत के बाद चार बच्चों का लालन-पालन करने के उद्देश्य से प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है।

खबरें और भी हैं...