विद्यार्थियों का एक दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण:औषधीय पौधों और जैविक खेती का निरीक्षण कर उससे मिलने वाले लाभ को भी समझा

सिरोंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मध्यप्रदेश उच्च शिक्षा गुणवत्ता उन्नयन परियोजना कार्यक्रम में शासकीय लाल बहादुर शास्त्री स्नातकोत्तर कॉलेज के विद्यार्थियों का एक दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण संपन्न हुआ। जिसमे कालेज के छात्र-छात्राएं एवं स्टाफ ने शमशाबाद के गोकलपुरा गांव में जाकर औषधीय एवं जैविक खेती कर रहे किसान लक्ष्मण सिंह मीणा के कृषि फॉर्म का निरीक्षण किया। प्रगतिशील किसान मीणा का कृषि फार्म मध्यप्रदेश राज्य जैविक प्रमाणीकरण संस्था भोपाल से प्रमाणित है। भ्रमण के दौरान लक्ष्मण सिंह एवं लखन पाठक ने छात्र छात्राओं को जैविक खेती के बारे में विस्तार से समझाया।

विद्यार्थियों ने कृषि फार्म का भ्रमण किया तथा जैविक खेती कैसे की जाती है इसके बारे में विषय विशेषज्ञों से जानकारी प्राप्त की। परियोजना प्रभारी प्रोफेसर अनामिका ठाकुर के निर्देशन एवं वरिष्ठ प्राध्यापक प्रोफेसर एसआर तिवारी के नेतृत्व में स्टाफ तथा विद्यार्थियों ने कार्यक्रम में सहभागिता की।

प्राचार्य डॉक्टर लालचंद राजपूत ने बताया कि वह इस शैक्षणिक भ्रमण में पूरे दिन विद्यार्थियों के साथ रहे। बहुत ही अच्छा अनुभव रहा। विद्यार्थियों में जैविक खेती के संबंध में बहुत उत्सुकता थी और उनकी जिज्ञासाओं का समाधान किया गया।

खबरें और भी हैं...