कुलपति को लिखा पत्र:DU में स्थायी और एडहॉक पदों को गेस्ट टीचर्स में किया जा रहा तब्दील

नई दिल्ली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस नीति की कुलपति से मांग की है कि वे प्रिंसिपलों को एडहॉक व स्थायी पदों को भरने संबंधी सर्कुलर जारी करें। - Dainik Bhaskar
इस नीति की कुलपति से मांग की है कि वे प्रिंसिपलों को एडहॉक व स्थायी पदों को भरने संबंधी सर्कुलर जारी करें।

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) कॉलेज प्रिंसिपलों द्वारा स्थायी व एडहॉक पदों पर होने वाली शिक्षकों की नियुक्तियों को गेस्ट टीचर्स में तब्दील कर रहे है। जबकि विश्वविद्यालय प्रशासन ने एडहॉक पदों को गेस्ट टीचर्स में तब्दील करने संबंधी कोई सर्कुलर जारी नहीं किया है। इस संबंध में फोरम ऑफ एकेडेमिक्स फ़ॉर सोशल जस्टिस के चेयरमैन व डॉ हंसराज सुमन ने डीयू कुलपति प्रो. योगेश कुमार सिंह को पत्र लिखा है।

उन्होंने पत्र में लिखा है कि जुलाई 2022 के बाद कॉलेजों में ओबीसी सेकेंड ट्रांच के पदों का रोस्टर रजिस्टर बनाकर पदों को भरा जाना है। जहां शिक्षक सेवानिवृत्त हुए हैं, उन पदों को भी वे एडहॉक के स्थान पर गेस्ट टीचर्स में तब्दील किया जा रहा है। इस नीति की कुलपति से मांग की है कि वे प्रिंसिपलों को एडहॉक व स्थायी पदों को भरने संबंधी सर्कुलर जारी करें।

डॉ. सुमन ने बताया है कि विभिन्न कॉलेजों ने अपने यहां एडहॉक के स्थान पर गेस्ट टीचर्स रखने के विज्ञापन निकाले जबकि उन कॉलेजों में एडहॉक पदों पर नियुक्ति की जा सकती है। इन एडहॉक पदों पर एससी, एसटी, ओबीसी व ईडब्ल्यूएस कोटे के अभ्यर्थियों की सीटें बनती है।

खबरें और भी हैं...