पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रशासन को आइना:सरकार ने नहीं सुनी तो खुद रोड की मरम्मत में जुटे युवा

गोइंदवाल साहिब3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गोइंदवाल साहिब और खडूर साहिब सिख संगत के लिए मान्यता रखते हैं, लेकिन दोनों कस्बों को आपस में जोड़ने वाली सड़क 5 साल में जगह-जगह से टूटी चुकी है। बता दे कि 19 सितंबर को गोइंदवाल साहिब में गुरु अमरदास जी के ज्योति ज्योत दिवस को समर्पित जोड़ मेला मनाया जाएगा। मेले में करीब 1 लाख की संख्या में संगत गुरुद्वारा साहिब में दर्शनों के लिए आएगी, पर टूटी सड़कों के चलते संगत को मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। वहीं, गोइंदवाल साहिब मेले के 2 दिन बाद खडूर साहिब में गुरु अंगद देव जी के गुरता गद्दी दिवस संबंधी जोड़ मेला मनाया जाएगा।

इस दौरान भी लाखों की गिनती में संगत पहुंचने की उम्मीद है, लेकिन मेलों से पहले न तो सरकार और न ही प्रशासन की ओर से दोनों कस्बों को जोड़ने वाली सड़क की मरम्मत की जाती है। इस सड़क को 2016 में आखिरी बार अकाली सरकार के दौरान बनाया गया था। अब कांग्रेस सरकार के 4.5 साल कार्यकाल में सड़क को एक बार भी बनाने का प्रयास नहीं किया गया।

सड़क की मरम्मत में जुटे हरप्रीत सिंह बिल्ला ने बताया कि सड़क बनाने के लिए हलका विधायक को भी ज्ञापन दिया गया था, लेकिन विधायक की ओर से इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया गया और न ही इस मामले को लेकर कोई सुनवाई की गई।बिल्ला ने कहा कि बाबा गुरनाम सिंह यूपी वालों के सेवक बाबा दविंदर सिंह सोनू के सहयोग से सड़क पर 2-2 फीट के गड्ढों को साफ कर सीमेंट से भरा जा रहा है। यही नहीं गांवों के युवा भी साफ-सफाई में लगे हुए हैं। आने वाले कुछ दिनों में सड़क को साफ-सुथरा बना दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...