बॉर्डर पार से फिर पहुंची ड्रग्स की खेप:किसान की सतर्कता से मिली 11 किलो हेरोइन, खेतों में चल रही थी धान की कटाई

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धान के खेतों से रिकवर की गई 11 कि� - Dainik Bhaskar
धान के खेतों से रिकवर की गई 11 कि�

पाकिस्तान के तस्कर भारत में लगातार हेरोइन और हथियारों की खेप भेजने की नापाक कोशिश में लगे हैं। बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) की सतर्कता से उनकी कोशिशें लगातार नाकाम हो रही हैं। BSF ने धान के खेत में पड़ी 11 किलोग्राम हेरोइन रिकवर करने में सफलता हासिल की है। खेप को रिकवर करवाने में क्षेत्र के एक किसान का अहम योगदान रहा है। उसने ही BSF को खेप के बारे में जानकारी दी।

पकड़ी गई खेप के साथ BSF के जवान।
पकड़ी गई खेप के साथ BSF के जवान।

जानकारी के अनुसार, BSF ने हेरोइन की खेप अबोहर सेक्टर से बरामद की। पाकिस्तान तस्करों ने बॉर्डर के इस पार धान के खेत में छिपा रखी थी। धान की चल रही कटाई के दौरान खेप पर किसान की नजर पड़ी। इसके बाद किसान ने तुरंत 52 बटालियन के जवानों को सूचना दी। जवानों ने जांच की तो वहां रखे 11 पैकेट रिकवर कर लिए। हेरोइन को पीले रंग के पैकेट्स में पैक किया था। हेरोइन की खेप का भार 11 किलो के करीब है।

धान का फायदा उठा रहे तस्कर

बॉर्डर पर धान की खड़ी फसल का पाकिस्तानी तस्कर फायदा उठा रहे हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि धान की फसल 4 फीट तक हो जाने के बाद तस्कर छिप कर हेरोइन की तस्करी का प्रयास करते हैं। BSF उनके प्रयासों को नाकामयाब कर रही है और हर दूसरे दिन खेप को रिकवर किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...