पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Amritsar
  • 126 Died In Amritsar Due To Poisonous Liquor, One Dying Every Day Due To Intoxication, But The Captain Did Not Act On Anyone, Will Ask The Center To Take Action, If Not Agree, I Will Protest Outside The Captain's House

कांग्रेस सांसद दूल्लो की CM को खरी-खरी:कैप्टन ने जहरीली शराब से 126 लोगों की जान लेने वालों पर कार्रवाई नहीं की, अब भी एक्शन न लिया तो मुख्यमंत्री के घर बाहर प्रदर्शन करूंगा

अमृतसर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अमृतसर में रविवार को रविदास मंदिर में नतमस्तक होते कांग्रेस सांसद शमशेर सिंह दूल्लो। - Dainik Bhaskar
अमृतसर में रविवार को रविदास मंदिर में नतमस्तक होते कांग्रेस सांसद शमशेर सिंह दूल्लो।

पंजाब से कांग्रेस के राज्यसभा मेंबर और पूर्व प्रदेशाध्यक्ष शमशेर सिंह दूल्लो ने राज्य में नशे की चेन तोड़ने के लिए कुछ भी न करने पर अपनी ही पार्टी के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को आड़े हाथों लिया। रविवार को अमृतसर में रविदास मंदिर के हॉल का उद्घाटन करने पहुंचे दूल्लो ने कहा कि पंजाब में पिछले 10 बरसों के दौरान दलितों को नुकसान हुआ है। CM कैप्टन अमरिंदर सिंह की अगुवाई वाली पंजाब सरकार पर बरसते हुए दूल्लो ने यहां तक कह दिया कि पंजाब में विपक्ष व कांग्रेसी विधायक आपस में मिले हुए हैं और इसी वजह से सभी लोग नशे के मुद्दे पर चुप हैं।

दूल्लो ने कहा कि अमृतसर, तरनतारन और गुरदासपुर जिले में लगभग सवा साल पहले जहरीली शराब से 126 लोगों की मौत हो गई थी। मरने वालों में 114 दलित थे। उस कांड के बाद पुलिस ने हरकत में आते हुए दो-दो एकड़ में फैली 9 फैक्ट्रियों की पहचान की, जो अवैध थीं। मगर समय निकलने के साथ सब शांत हो गया और किसी अवैध फैक्ट्री पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। पंजाब सरकार ने जहरीली शराब सप्लाई करने वालों के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया।

दूल्लो ने कहा कि कांग्रेस के राज भी पंजाब में नशा खत्म नहीं हो पा रहा। आज भी रोजाना एक आदमी की मौत ड्रग्स की वजह से होती है। ये ड्रग्स बिकवाने वालों में पंजाब के विधायक और पुलिस अफसर दोनों शामिल हैं। इस पर कोई बोलने को तैयार नहीं है क्योंकि विपक्ष और मौजूदा सरकार के विधायक दोनों आपस में मिले हुए हैं। पंजाब सरकार तस्करों और नशा बेचने वाले को बचा रही है।

कांग्रेस सांसद ने कहा कि कैप्टन सरकार अपने बचाव में हमेशा यह कहती रही है कि नशा बॉर्डर पार से आ रहा है मगर सरकार में शामिल लोगों ने कभी ये नहीं बताया कि आखिर बॉर्डर पार से आने वाले इस नशे को आगे घर-घर तक पहुंचाने वाले कौन हैं। दूल्लो ने कहा कि वह कांग्रेस हाईकमान से इस मुद्दे पर कार्रवाई करने के लिए बात करेंगे। अगर उसके बाद भी कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ड्रग्स माफिया पर कार्रवाई नहीं की तो वे कैप्टन के घर के बाहर प्रदर्शन करेंगे।

दलितों की फीस में स्कैम हुआ, सरकार ने कुछ नहीं किया

कांग्रेस सांसद ने कहा कि पंजाब में दलित समुदाय के बच्चों के पढ़ाई करने पर उनकी फीस माफ है। इसके बावजूद पिछले समय में सूबे में दलित बच्चों की स्कॉलरशिप में 400 करोड़ रुपए का घपला सामने आया। कैप्टन सरकार ने इस घपले के दोषियों पर कोई कार्रवाई नहीं की। ऐसे स्कैम हरियाणा और हिमाचल प्रदेश में भी हुए, लेकिन वहां की सरकारों ने तुरंत एक्शन लिया जबकि कैप्टन सरकार इस पर चुप्पी साधे हुए है।

दूल्लो ने इस बात पर हैरानी जताई कि आखिर कैप्टन सरकार हर जगह दोषियों को बचाने में ही क्यों जुटी रहती है।

खबरें और भी हैं...