• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Amritsar
  • 5 Programs In 4 Assembly Circles Of Amritsar, Will Meet Businessmen And Will Also Listen To The Problems Of The Families Of Martyrs

सुखबीर के निशाने पर भाजपा का वोटबैंक:अमृतसर में एक दिन में 5 प्रोग्राम, गौशाला में चारा डालने पहुंचे तो लोगों ने ली सेल्फियां, बादल बोले- सिद्धू जिस पार्टी में गए उसी का बेड़ा गर्क

अमृतसर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सुखबीर बादल को फूलों का हार डालते हुए अकाली नेता। - Dainik Bhaskar
सुखबीर बादल को फूलों का हार डालते हुए अकाली नेता।

किसानों का विरोध थमने के बाद शिरोमणि अकाली दल (शिअद) बादल के प्रधान सुखबीर बादल पार्टी को पंजाब के शहरी इलाकों में मजबूती देने निकल पड़े हैं। सुखबीर शहरी इलाकों में रहने वाले हिंदू वोटरों को साधना चाहते हैं जिन्हें अभी तक भाजपा का वोटबैंक माना जाता रहा है। 2 दिन पहले सुखबीर ने लुधियाना में अपना दौरा 'जय श्रीराम' कहकर शुरू किया तो बुधवार को अमृतसर पहुंचते ही उन्होंने सबसे पहले गौशाला का रुख किया। गायों को चारा डालकर उनके आगे हाथ जोड़े। इस दौरान सुखबीर ने कांग्रेस के लखीमपुर खीरी मार्च को किसानों के लिए नहीं, बल्कि प्रियंका गांधी के लिए बताया। नवजोत सिद्धू पर निशाना साधते हुए सुखबीर ने कहा कि सिद्धू जिस पार्टी में जाते हैं, उसी का बेड़ागर्क कर देते हैं।

गाड़ी रुकवाकर सुखबीर बादल लोगों से मिले।
गाड़ी रुकवाकर सुखबीर बादल लोगों से मिले।

बुधवार को अमृतसर पहुंचे सुखबीर बादल पूरे एक्शन में दिखे। सबसे पहले उन्होंने फोकल पॉइंट स्थित गौशाला पहुंचकर गोवंश को चारा डाला। गौशाला प्रबंधकों से बातचीत के बाद सुखबीर शाम 4.30 बजे डिप्टी सीएम ओमप्रकाश सोनी के हलके, अमृतसर सेंट्रल पहुंचे। यहां लाहौरी गेट पर अकाली दल स्पोर्ट्स सेल के प्रधान विकास गिल उनका स्वागत किया। लाहौरी गेट पर सुखबीर सुरक्षा घेरा तोड़कर भीड़ के बीच पहुंच गए जहां स्थानीय लोगों ने उनके साथ सेल्फियां ली। सुरक्षाकर्मियों ने तीन-चार लोगों को रोका तो सुखबीर हाथ पकड़कर उन्हें अपने पास ले आए और सेल्फियां खिंचवाईं।

मजीठ मंडी में व्यापारियों से दुकानों के अंदर जा-जा कर मिले सुखबीर।
मजीठ मंडी में व्यापारियों से दुकानों के अंदर जा-जा कर मिले सुखबीर।

शक्ति नगर और मजीठ मंडी में 33 जगह डाले सरोपे
शाम 04.50 बजे सुखबीर बादल का काफिला शक्तिनगर के लिए निकला। यहां लोगों ने बीच-बीच में रोककर उन्हें सरोपे डाले। शक्तिनगर चौक पर अकाली दल एससी विंग के प्रधान दिलबाग सिंह ने सुखबीर का स्वागत किया। इसके बाद सुखबीर मजीठ मंडी पहुंचे। जहां पूर्व मंत्री अनिल जोशी भी उनके साथ थे। अमृतसर शहर की सबसे पुरानी ड्राई-फ्रूट मार्केट में सुखबीर खुद चलकर हर दुकान के अंदर गए और लोगों से मिले। सभी से उन्होंने एक ही बात कही-हमारी सरकार आएगी तो हर जगह विकास होगा और हर मांग पूरी होगी। इसके बाद सुखबीर बादल इलेक्ट्रोनिक्स व टैक्सटाइल एसोसिएशन के अलावा इंडस्ट्री एसोसिएशन के पदाधिकारियों से मिलने चले गए। सुखबीर ने शहर में अपना अंतिम कार्यक्रम फ्रीडम फाइर्ट्स के साथ अजीत नगर स्वर्ण हाऊस होटल में किया।

अमृतसर के अपने दौरे के दौरान सुखबीर बादल ने किसी को नाराज नहीं किया और हर किसी के साथ सेल्फियां खिंचवाई।
अमृतसर के अपने दौरे के दौरान सुखबीर बादल ने किसी को नाराज नहीं किया और हर किसी के साथ सेल्फियां खिंचवाई।

सिद्धू जिस पार्टी में जाते हैं, उसी का भविष्य खराब
सुखबीर बादल ने नवजोत सिद्धू द्वारा पंजाब प्रदेश कांग्रेस प्रधान के पद से इस्तीफा दिए जाने पर कोई टिप्पणी नहीं की और कहा कि यह कांग्रेस का इंटरनल मैटर है। जब सिद्धू के भविष्य के बारे में पूछा गया तो सुखबीर ने कहा कि सिद्धू का कोई भविष्य नहीं है। वह जिस पार्टी में जाते हैं उसी का भविष्य खराब हो जाता है। सिद्धू का पता ही नहीं चल रहा कि वह पंजाब के प्रधान हैं या नहीं।

यूपी के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में किसानों की मौत के बाद वहां कांग्रेस पार्टी की ओर से निकाले जा रहे मार्च के बारे में सुखबीर बादल ने कहा कि कांग्रेस को किसानों से कोई हमदर्दी नहीं है। यूपी में कांग्रेसी अपनी नेता प्रियंका गांधी के लिए मार्च निकाल रहे हैं, किसानों के लिए नहीं।

खबरें और भी हैं...