पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बिलसेवक मशीनें बंद:5 साल का ठेका खत्म, अलग-अलग शहरों में लगी 89 बिलसेवक मशीनें 31 से होंगी बंद

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • वर्ष 2015 से बिल भरने वाले लाेगों का समय बचा रही मशीनें बंद होने से कैश कांउटराें पर फिर से लगनी शुरू हो सकती हैं लंबी लाइन, कंपनी ने मुलाजिमों को भेजे मैसेज
  • मशीनों पर सुबह 8 से रात 8 बजे तक बिल भरने की सुविधा थी, कैश काउंटरों का समय दोपहर तक सीमित
Advertisement
Advertisement

पंजाब स्टेट पावर कार्पोरेशन (पावरकॉम) की ओर से बिल भरवाने के लिए पांच साल पहले लगवाई गई बिल सेवक मशीनें 24 दिन बाद बंद हो जाएंगी।

इससे लोगों को फिर से लंबी लाइनों में लगकर बिल भरना पड़ सकता है। 31 जुलाई को इन्हें ऑपरेटर करने वाली टीएसआई कंपनी का ठेका खत्म हो रहा है।

कंपनी ने अपने कर्मचारियों को इस संबंध में मैसेज कर मशीनें बंद होने की सूचना दे दी है। कोरोनाकाल में मिले इन मैसेजों से मशीनों पर काम करने वाले कर्मचारियों में बेरोजगार होने की मायूसी छा गई है।

इन मशीनों के बंद होने से उपभोक्ताओं को भी खासी परेशानी होगी। यहां बिल कुछ मिनटों में ही भर जाते थे, लेकिन फिर लंबी लाइनों का दौर आ सकता है।  

मशीनों पर सुबह 8 से रात 8 बजे तक बिल भरने की सुविधा थी, कैश काउंटरों का समय दोपहर तक सीमित

पावरकॉम ने बिल भरने के लिए लगने वाली लंबी लाइनों को ग्राहकों को छुटकारा दिलाने के लिए बिल सेवक मशीनों को लगाया था।

इसके तहत महकमे ने वर्ष 2015 में टीएसआई कंपनी से कांट्रेक्ट करके अमृतसर, बटाला, पठानकोट, जालंधर, लुधियाना और पटियाला में 89 बिल सेवक मशीनें लगवाई थी।

इनमें लोग सुबह 8 से रात 8 बजे तक बिल जमा करवा सकते थे। कोरोना काॅल में भी इन मशीनों पर सुबह 9 से बाद दोपहर 2 बजे बिल लिए जा रहे हैं।

यहां मात्र दो मिनट में बिल भरा जा सकता है, जबकि पावरकाॅम के कैश काउंटर पर मैनुअल बिल भरने में कहीं ज्यादा समय लगता है।

कंपनी के अमृतसर प्रोजेक्ट अमनदीप सिंह का कहना है कि बिस सेवक मशीनों के ठेका खत्म हो गया है। इन्हें बंद करने के आदेश पटियाला से आए हैं।    

कैशियरों के रिटायर्ड होने के बाद कम होती जा रही कैश काउंटरों की खिड़कियां :

पावरकाॅम में हर साल कई बिजली कर्मचारी समेत कैश काउंटरों के कैशियर भी सेवा मुक्त हो रहे है। जबकि कई कैशियर उपभोक्ताओं से दुखी होकर खूद ही रिटायर्ड हो रहे है।

बिल सेवक मशीनें बंद होने से कैश काउंटरों में बिल जमा करवाने वाले उपभोक्ता का तांता लगा रहेगा। वहीं छुट्टी के अगले दिन भीड़ को काबू कर पाना मुश्किल होगा। 

ऑनलाइन पेमेंट बचा सकती है टाइम :

लोग ‘पीएसपीसीएल’ ऐप से बिल भरकर टाइम बचा सकता है।  इसके अलावा विभिन्न प्राइवेट वॉलेट के जरिए भी बिलों को ऑनलाइन भरा जा सकता है। 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement