• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Amritsar
  • 7 Out Of 8 Water Samples Failed, 5 More Samples Taken, Orders To Be Vigilant Due To New Patients Getting Due To Contaminated Drinking Water Supply In Piparangi, Sham Nagar, Shivpuri

उल्टी-दस्त के 10 नए केस मिले:पानी के 8 में से 7 सैंपल फेल, 5 और सैंपल लिए, पीपारंगी, शाम नगर, शिवपुरी में दूषित पेयजल सप्लाई के कारण मिल रहे नए मरीजों के चलते अधिकारियों को चौकसी बरतने के आदेश

फगवाड़ा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पीपारंगी, शाम नगर, शिवपुरी आदि कई मोहल्लों में दूषित पेयजल की सप्लाई से बीमारी के कारण सिविल अस्पताल में 10 नए केस मिले हैं। फगवाड़ा के सिविल अस्पताल में अब तक के 30 के करीब मरीजों का इलाज चल रहा है। इधर, श्याम नगर और शिवपुरी इलाके से 8 सैंपल लिए गए थे। जिसमें से 7 सैंपल फेल हुए हैं। नगर निगम के वाटर सप्लाई तथा सीवरेज महकमे की ओर से इलाके से 5 नए सैंपल लिए हैं।

सेहत विभाग के अधिकारियों को दिए निर्देश-मरीजों को कोई परेशानी न हो

वीरवार को फगवाड़ा के सिविल अस्पताल में सिविल सर्जन कपूरथला परमिंदर कौर, फूड एग्रो इंडस्ट्रीज के चेयरमैन जोगिंदर सिंह मान ने दौरा किया। सिविल अस्पताल के एसएमओ लेबल राम ने लोगों को अपील की कि वह किसी तरह की उलटीदस्त का अंदेशा होने पर सिविल अस्पताल में दौरा करें। घरों में पानी को उबालकर पीयें। नगर निगम के वाटर सप्लाई तथा सीवरेज बोर्ड विभाग के एसडीओ प्रदीप चटानी ने बताया कि डोर-टू-डोर सर्वे के दौरान जिन घरों में सैंपल लिए हैं, उनमें से 3 घरों की पानी की टंकियों में फंगस मिली थी।

साथ ही 2 घरों में सीवरेज के पानी की लीकेज भी दिखाई दी थी, जिसे दुरुस्त कर दिया गया है। शामनगर में 4 घरों में पेयजल के नए कनैक्शन जोड़ दिए हैं। पंजाब के पूर्व मंत्री एवं पंजाब एग्रो इंडस्ट्रीज निगम के चेयरमैन जोगिन्द्र सिंह मान सिविल अस्पताल फगवाड़ा पहुंचे। उन्होंने मरीजों का हालचाल जानने के बाद स्वास्थ्य विभाग, वाटर सप्लाई और सैनिटेशन विभाग के आधिकारियों से उच्चस्तरीय मीटिंग भी की। पूर्व मंत्री मान ने स्वास्थ्य विभाग के आधिकारियों को स्पष्ट कहा कि जो भी मरीज सरकारी सेहत केंद्रों में उपचाराधीन है, उनका बढ़िया इलाज यकीनी बनाया जाए।

मरीजों को किसी तरह की परेशानी न हो। वाटर सप्लाई और सैनिटेशन विभाग के आधिकारियों को भी पूर्व मंत्री जोगिन्द्र सिंह मान ने कहा कि घरों में सप्लाई होने वाले पीने वाले पानी के दूषित होने के कारणों की उच्च स्तरीय जांच करवा कर इस समस्या को पहल के आधार पर हल किया जाए। यदि किसी भी तरह की लापरवाही सामने आती है तो संबंधित अधिकारी अथवा कर्मचारी के खिलाफ बनती कार्यवाई सुनिश्चित होनी चाहिए। इस मौके पर जिला यूथ कांग्रेस के कार्यकारी प्रधान हरनूर सिंह हरजी मान और रविन्द्र सिंह उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...