पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जीएनडीएच में भर्ती:रंजिश में वृद्धा पर कातिलाना हमलाकर कार तोड़ी ट्रैक्टर-ट्राली फूंकी,10 दिन के बाद भी केस नहीं

अमृतसर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गांव मुरादपुरा की घटना,पुलिस ने जीएनडीएच में भर्ती घायल वृद्धा के बयान कलमबद्ध किए

गत दिवस गांव मुरादपुरा के किसान के घर पर रंजिशन कातिलाना हमले में गंभीर रूप से घायल 65 वर्षीय बुजुर्ग महिला जसबीर कौर से गुरु नानक देव अस्पताल में पुलिस ने बयान कलमबंद्ध किए हैं। इसके बाद महिला को अस्पताल प्रबंधन ने घर भेज दिया है, लेकिन परिवार वाले जाने से डर रहे थे।जसबीर कौर के बेटे मनजिंदर सिंह ने बताया कि पड़ोसियों के साथ उनकी पुरानी रंजिश थी, जिसे लेकर दोनों पक्षों में समझौता हो गया था, लेकिन 15 नवंबर की रात 10.30 बजे दो पड़ोसी घरों के 7-8 हथियारबंद लोगों ने उनके घर पर हमला कर दिया। हमलावरों ने पहले इनकी ट्रैक्टर-ट्राॅली में आग लगा दी फिर वॉशिंग मशीन, कार पूरी तरह से तोड़ डाली। जब उनकी मां जसबीर कौर ने उन लोगों को ऐसा करने से रोकना चाहा तो उन पर तलवारों और हाकियों से हमला कर दिया। इसमें उनकी मां का सिर फट गया और आंख, पैर अाैर बाजू में गंभीर चोटें आईं। बीच-बचाव को आगे आई मनजिंदर की पत्नी को भी हमलावरों ने पीटा।

पीड़ित परिवार का कहना है कि वे पुलिस और 100 नंबर को फोन करते रहे, लेकिन दो घंटे कोई नहीं आया। मनजिंदर ने बताया कि गंभीर हालत में जसबीर कौर को एक निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया, वहां से 18 नवंबर को गुरु नानक देव अस्पताल रेफर किया गया और यहां पर डॉक्टरों ने इलाज शुरू किया। मनजिंदर अाैर जसबीर कौर ने बताया कि उन्हें अभी भी धमकियां मिल रही हैं, डर के चलते उन लोगों ने बच्चों को रिश्तेदारी में भेज दिया है। मुरादपुर की पुलिस ने बुधवार को अस्पताल पहुंच कर सजबीर कौर का बयान दर्ज किया है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser