अमेरिका में अमृतसर के युवक की मौत:5 महीने पहले कर्जा लेकर स्टडी वीजा पर परिवार ने भेजा था विदेश

अमृतसर6 दिन पहले

स्टडी वीजा पर अमेरिका गए अमृतसर के युवक की संदिग्ध हालातों में मौत हो गई है। 5 महीने पहले ही वह अमेरिका गया था। परिवार को शनिवार सुबह बेटे की मौत की सूचना मिली, जिसके बाद गांच चीचेवाल में मातम छा गया। वहीं परिवार मृत देह को जल्द भारत भेजने की मांग कर रहा है।

अमृतसर के गांव चीचेवाल में रहने वाला जगरूप सिंह 5 महीने पहले ही अमेरिका गया था। परिवार ने 18 लाख रुपए का कर्ज उसे विदेश भेजने के लिए लिया था। स्टडी वीजा आया तो पूरा परिवार खुश था, लेकिन हुआ उलट ही। जगरूप अपने कमरे में सो रहा था, लेकिन उठा ही नहीं।

साथ रहने वाले युवक अस्पताल ले गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। साथी युवकों ने शनिवार अलसबुह परिवार को अमेरिका से फोन करके जगरूप की मौत की खबर दी। अभी कुछ भी स्पष्ट नहीं है कि मौत कैसे हुई? कोई झगड़ा-मारपीट हुई या बीमार था, कुछ क्लीयर नहीं है।

परिवार में सभी का रो-रो कर बुरा हाल है।
परिवार में सभी का रो-रो कर बुरा हाल है।

रिश्तेदारों से इकट्‌ठा किया था 18 लाख

जगरूप के रिश्तदेार ने बताया कि अभी उसे विदेश गए 5 महीने ही हुए थे। 18 लाख रुपए परिवार ने अपने रिश्तेदारों से व अपनी जमा पूंजी को जोड़कर इकट्‌ठे किए थे। अभी तो उसकी पढ़ाई शुरू ही हुई थी कि उसकी मौत की खबर आ गई।

इकलौता बेटा था जगरूप

जगरूप के पिता ने बताया कि वह उनका इकलौता बेटा था। उन्होंने अमेरिकी सरकार से उनके बेटे के मौत की जांच करने की भी मांग उठाई है। उन्होंने भारत सरकार से भी मांग की है कि उनके बेटे के शव को जल्द से जल्द विदेश से वातन लाया जाए, ताकि वह उसके अंतिम दर्शन कर सकें।