एक साल बाद दोबारा चली थी ट्रेन:नहीं चलेगी अमृतसर-नई दिल्ली शताब्दी, एक भी दिन 100 से ज्यादा यात्री नहीं मिले

अमृतसर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पिछले साल मार्च महीने में कोरोना के चलते लगे लॉकडाउन में बंद की गई ट्रेनों में अमृतसर-नई दिल्ली शताब्दी एक्सप्रेस भी शामिल थी, जिसे इस साल 11 अप्रैल काे रेलवे ने फिर से चलाने का फैसला किया था। यह ट्रेन 11 अप्रैल से 29 अप्रैल तक अमृतसर-नई दिल्ली के बीच 02013-14 नंबर से चली। लेकिन एक भी दिन इसमें अमृतसर से 100 से ज्यादा यात्री नहीं गए। इसी कारण रेलवे ने इस ट्रेन को अगले आदेशाें तक रद्द रखने का फैसला किया है। 11 अप्रैल को इसे फिर से शुरू करते समय रेलवे को इसमें यात्रियों की संख्या अच्छी-खासी रहने की उम्मीद थी, क्योंकि यह ट्रेन पिछले साल तक तीन-तीन महीने पहले ही फुल हो जाती थी।

जानकारी के अनुसार इंडियन रेलवे ने सभी रेलवे डिवीजनों काे पत्र जारी कर उन ट्रेनों की सूची मांगी थी, जिनमें यात्रियों की संख्या 10 फीसदी से भी कम रह रही थी। फिरोजपुर रेलवे ने इंडियन रेलवे काे उन ट्रेनों की सूची भेजी थी, जिनमें यात्रियों की संख्या कम चल रही है। इस सूची में 11 अप्रैल काे अमृतसर-नई दिल्ली के बीच शुरू हुई शताब्दी एक्सप्रेस काे भी शामिल किया था। लिहाजा फिरोजपुर डिवीजन की भेजी सूची के आधार पर अगले आदेशों तक अमृतसर-नई दिल्ली के बीच चलने वाली 02013-14 शताब्दी एक्सप्रेस काे रद्द करने का फैसला किया गया है। इंडियन रेलवे ने इसके अलावा विभिन्न रेलवे स्टेशनों के बीच चलने वाली कई और ट्रेनों काे भी रद्द करने का फैसला किया है। इन ट्रेनों में 04211-12 आगरा कैंट-नई दिल्ली शताब्दी एक्सप्रेस, 12049-50 झांसी-निजामुदीन के बीच चलने वाली गतिमान एक्सप्रेस भी शामिल है। यह जानकारी फिरोजपुर रेलवे अधिकारियों की ओर से दी गई है।

चलने से पहले ही रद्द हो गई आम्रपाली एक्सप्रेस

फिरोजपुर रेलवे डिवीजन की ओर से कोरोना के बढ़ते संक्रमण काे देखते हुए अमृतसर-कटिहार के बीच चलने वाली 05707-08 आम्रपाली एक्सप्रेस काे शुरू होने से पहले ही रद्द करने का फैसला किया है। इस ट्रेन काे 30 अप्रैल से कटिहार से अमृतसर के लिए रवाना किया जाना था। इसके बाद 3 मई काे यह ट्रेन अमृतसर से कटिहार के लिए रवाना होनी थी। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि जिन ट्रेनों काे रद्द किया गया है उनके लिए जिन यात्रियों ने बुकिंग करवाई है वह अपना रिफंड किसी भी रेलवे स्टेशन के रिजर्वेशन केंद्र से ले सकते है। ऑनलाइन बुक की गई टिकट्य का रिफंड सीधा खाते में होगा।

खबरें और भी हैं...