पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सिद्धू के बर्थ-डे प्रोग्राम में नो सोशल डिस्टेंसिंग:मंच से तीन बार अनाउंसमेंट-सिद्धू को एक्स मिनिस्टर नहीं कहेंगे, वह अगले हफ्ते मंत्री बन रहे

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कैबिनेट में वापसी की चर्चाएं शुरू होते ही सिद्धू को कार्यक्रमों में बुलाने लगे चहेते
  • जन्मदिन के 5 दिन बाद पार्षद शैली ने चमरंग रोड पर 5 हजार लोगों को बंटवाए कंबल

पूर्व लोकल बॉडीज मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की कैबिनेट में वापसी की चर्चाओं के बीच चहेते उन्हें कार्यक्रमों में बुलाने लगे हैं। इसलिए उनके जन्मदिन के 5 दिन बाद रविवार को चमरंग रोड पार्क में बर्थ-डे प्रोग्राम में करवाया गया, मगर इसमें सोशल डिस्टेंसिंग की खुल कर धज्जियां उड़ी।

इस दौरान 5 हजार जरूरतमंदों को पार्क में कंबल बांटे गए, जहां आयोजकों या पुलिस ने सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करवाने के लिए कोई पहल नहीं की। वहीं ज्यादातर चेहरों पर मास्क भी नहीं था। इस प्रोग्राम को शुरू होने से पहले और सिद्धू की मौजूदगी में भी स्टेज पर माइक पकड़े अनाउंसर जगमोहन सिंह दुआ ने 3 बार नवजोत सिंह सिद्धू के कैबिनेट मंत्री बनने की बात कही।

दुआ ने कहा कि अब वह सिद्धू को एक्स मिनिस्टर नहीं कहेंगे, क्योंकि वे अगले हफ्ते मंत्री बन कर आ रहे हैं। यह प्रोग्राम वार्ड नंबर 46 के पार्षद शैलिंदर सिंह शैली की तरफ से आयोजित किया गया था।

पार्क के अंदर और बाहर भीड़, आयोजकों-पुलिस ने नहीं करवाया कोरोना हिदायतों का पालन

सिद्धू दोपहर 12.38 बजे चमरंग रोड पार्क में पहुंचे। यहां कंबल बांटने की शुरुआत करने के बाद 1.25 बजे वह चले गए। इसके बाद पार्क में कंबल बांटने शुरू किए गए, जहां लोगों की भारी भीड़ जुट गई। इस दौरान वहां पर सोशल डिस्टेंस का जरा भी ख्याल नहीं रखा गया और ज्यादातर के चेहरों पर मास्क भी नहीं लगे हुए थे। इस दौरान वहां पर आयोजकों की टीम के साथ ही पुलिस भी मौजूद थी, लेकिन किसी ने भी कोरोना महामारी का ख्याल करते हुए भीड़ से नियमों का पालन करवाने के लिए पहल नहीं की।

सिद्धू को बच्चों ने कहा ‘हैप्पी बर्थ-डे’ बुजुर्ग के पांव छूकर आशीर्वाद लिया

सिद्धू रविवार दोपहर 12.38 बजे आयोजन स्थल पर पहुंचे। भाषण खत्म के बाद सिद्धू ने स्टेज से उतर कर कुछ जरूरतमंद लोगों को कंबल बांटने की शुरुआत की। सिद्धू को एक झुग्गी वाले ने गुलाब का फूल दिया, जो कि उन्होंने आगे एक बच्चे को दे दिया। बच्चों ने सिद्धू को हैप्पी बर्थ कहा। सिद्धू ने एक झुग्गी वाले के पांव छुए और फिर उसे प्लेट में डालकर खाना देते हुए कहा कि उन्होंने खाना खाकर सिद्धू को कृतार्थ किया है।

सिद्धू झुग्गियों में रहने वाले बच्चों संग जन्मदिन मनाना चाहते थे: पार्षद शैली
प्रोग्राम के आयोजक पार्षद शैली ने कहा कि सिद्धू के मन में ख्वाहिश थी कि वह अपना जन्मदिन झुग्गी वाले बच्चों के साथ मनाएं। ईस्ट की सभी 18 वार्डों की टीमें बनाकर 5 हजार लोग आइडेंटिफाई किए गए थे, जिन्हें कंबल बांटे गए हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें