पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अब भाजपा में क्लेश:किसानाें की बात हाईकमान तक पहुंचाने में नाकाम रहे अश्वनी शर्मा काे इस्तीफा दे देना चाहिए : जोशी

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 'कारण बताओ नोटिस’ के बाद जोशी के तेवर और तल्ख

किसानी मुद्दे को लेकर अपनी ही पार्टी के निशाने पर आए पूर्व कैबिनेट मंत्री अनिल जोशी के तेवर अपने खिलाफ जारी किए गए ‘कारण बताओ नोटिस’ के बाद और तल्ख हो गए हैं। प्रदेश प्रधान अश्वनी शर्मा पर सीधे हमला बोलते हुए जोशी ने बुधवार को कहा शर्मा और उनकी टीम किसानी मुद्दे पर केंद्र को पंजाब के किसानाें का फीडबैक हाईकमान और केंद्र सरकार तक पहुंचने में नाकाम रही है।

अश्वनी शर्मा काे अपनी नाकामी स्वीकार करते हुए इस्तीफा देना चाहिए। जाेशी ने कहा आज वे लोग उनसे जवाब मांग रहे हैं, जो कभी अपने बूथ में भी नहीं बैठे। पार्टी में उच्च पदों पर बैठे लीडर पार्षद तक के चुनाव हार चुके हैं और यहां तक कि उन्हें हराने में भी उन्हीं का हाथ रहा है। प्रांतीय प्रधान पर जोशी ने आरोप लगाया कि यह लोग कार्यकर्ता की इज्जत और जान-माल की रक्षा कर पाने में नाकाम रहे हैं। मारपीट और हमलों से कार्यकर्ता हताश होकर पार्टी छोड़ रहा है। एक साजिश रची जा रही है, ताकि वह बीच से निकल जाएं और उनके पद बचे रहें।

शर्मा का जवाब- दो दिन में मिल जाएगा जोशी को आरोपों का जवाब
चंडीगढ़ | पूर्व कैबिनेट मंत्री अनिल जोशी के आरोपों पर पंजाब प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने कहा कि जोशी ने जो भी आरोप लगाए हैं। उन पर मैं किसी भी प्रकार से टिप्पणी नहीं करना चाहता। शर्मा ने कहा जोशी सीनियर नेता हैं, मैं उनका सम्मान करता हूं। उन्होंने जो भी आरोप लगाए हैं, उनका जवाब दो दिन के भीतर मिल जाएगा। उन्होंने कहा कि पार्टी के खिलाफ कोई भी नहीं जा सकता है।

खबरें और भी हैं...