ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी पर अमृतसर बंद:कट्‌टरपंथी संगठनों ने 6 जून के लिए दी कॉल, सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अमृतसर पुलिस लाइन में पुलिस दंगाइयों को सबक सिखाने की ट्रेनिंग लेते हुए। - Dainik Bhaskar
अमृतसर पुलिस लाइन में पुलिस दंगाइयों को सबक सिखाने की ट्रेनिंग लेते हुए।

कट्टरपंथी सिख संगठनों ने ऑपरेशन ब्लू स्टार की 38वीं बरसी पर आगामी 6 जून को अमृतसर बंद रखने का आह्वान किया है। संगठनों ने 6 जून के लिए समर्थन जुटाने का अभियान शुरू कर दिया है। सिख संगठन 5 को स्वतंत्रता मार्च निकालने की घोषणा भी कर चुके हैं। दूसरी तरफ इन सबके बीच पुलिस ने शांति-व्यवस्था बनाए रखने के लिए कमर कस ली है।

पंजाब और पड़ोसी राज्यों में पिछले कुछ समय में 'खालिस्तान मूवमेंट' से जुड़ी कई एक्टिविटी नजर आई हैं। पटियाला में दो समुदायों के बीच झड़प के बाद से पंजाब में माहौल चिंताजनक है। ऐसे में पुलिस प्रशासन ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी के मौके पर ढील नहीं बरतना चाहता। इसी क्रम में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए कई जगह चेकिंग के अलावा फ्लैग मार्च निकाले जा रहे हैं। कट्‌टरपंथियों पर नजर रखने के लिए सभी प्रमुख मार्गों पर CCTV कैमरे लगाए गए हैं।

अमृतसर बस स्टैंड में पुलिस और अर्द्धसैनिक बल चेकिंग करते हुए।
अमृतसर बस स्टैंड में पुलिस और अर्द्धसैनिक बल चेकिंग करते हुए।

कट्‌टरपंथी संगठन सोशल मीडिया पर सक्रिय

दल खालसा, शिरोमणि अकाली दल (अमृतसर) और कुछ अन्य कट्टरपंथी संगठन 6 जून से पहले सोशल मीडिया पर एक्टिव हो गए हैं। यह संगठन सोशल मीडिया के जरिये और शहरभर में घूमकर व्यापारियों, बैंकों और शैक्षणिक संस्थानों को 6 जून को बंद रखने का आग्रह कर रहे हैं।

5 जून को स्वतंत्रता मार्च की तैयारी

दल खालसा के प्रवक्ता के अनुसार, 5 जून को अमृतसर शहर में 'स्वतंत्रता मार्च' निकालने की तैयारी है। अगले दिन, यानी 6 जून को अमृतसर बंद का आह्वान कर लोगों से सहयोग मांगा जा रहा है। इसके लिए 20 हजार से अधिक पैंफ्लेट बांटने की भी योजना है। बंद का आह्वान व्यापारिक, बैंकों, पेट्रोल पंपों और शिक्षण संस्थानों के लिए है। रास्ते या ट्रैफिक बंद नहीं किया जाएगा।

पुलिस पूरी तरह तैयार

अमृतसर के पुलिस कमिश्नर अरुणपाल सिंह का कहना है कि पटियाला में पिछले दिनों हुई घटना के बाद पुलिस प्रशासन अधिक सतर्क हैं। ऑपरेशन ब्लू स्टार की सालगिरह के लिए हर साल पहले से तैयारी कर ली जाती है। इस साल कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए आवश्यक तैयारी थोड़ी जल्दी कर रहे हैं। शहर में फ्लैग मार्च निकाले जा रहे हैं। ऑपरेशन ब्लू स्टार की सालगिरह से पहले किसी भी तरह की स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त पुलिस और अर्द्धसैनिक बल तैनात किए जा सकते हैं।