पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अकाल तख्त के आदेश की अनदेखी के आराेप:कोरोनाकाल में सीकेडी प्रधान की बेटी की सैलरी बढ़ी, मुलाजिमों की 30% घटी: चड्‌ढा

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चीफ खालसा दीवान के पूर्व प्रधान चरनजीत सिंह चड्ढा ने दीवान के मौजूदा प्रधान निर्मल सिंह पर अनियमितताओं के आराेप लगाए। उन्होंने कहा कि जब से निर्मल सिंह ने प्रधान पद संभाला है तब से वह नियम विरुद्ध कार्य करते आ रहे हैं।

बता दें कि अश्लील वीडियो के मामले में अकाल तख्त की ओर से चड्ढा पर लगाई पाबंदी हटाए जाने के बाद पहली बार मीडिया के सामने आए चड्ढा ने कहा कि निर्मल सिंह ने दीवान के नियमों की परवाह करनी छोड़ दी है। आराेप लगाया कि कोरोनाकाल में लोगों के भूखा मरने की नौबत है वहीं प्रधान अपने परिवार को लाभ पहुंचाने में लगे हैं। चड्ढा ने कहा कि संविधान के खिलाफ चलते हुए प्रधान ने बेटी को अटारी स्कूल का प्रिंसिपल बना दिया है। दीवान खर्च पर बेटी के लिए नई कार खरीदी है।

गाड़ी खरीदने के लिए खर्च राशि की मंजूरी भी कार्यकारिणी कमेटी से नहीं ली। चड्‌ढा ने कहा कि कोरोनाकाल में निर्मल सिंह ने दीवान के मुलाजिमाें की सैलरी 30% कम कर दी और कई मुलाजिमाें की छुट्टी भी कर दी। लेकिन इस दाैरान प्रधान की बेटी की सैलरी में 15 हजार का इजाफा कर दिया गया। दूसरी ओर दीवान के मौजूदा प्रधान निर्मल सिंह ने कहा कि दीवान के प्रबंध संविधान के मुताबिक चल रहे हैं।

खबरें और भी हैं...