अमृतसर एयरपोर्ट से 9 कोरोना मरीज फरार:इटली की फ्लाइट में आए, एयरपोर्ट पर रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सेहत विभाग और एयरपोर्ट अथॉरिटी को दिया चकमा

अमृतसर5 महीने पहलेलेखक: अनुज शर्मा
  • कॉपी लिंक

गुरुवार को इटली से चार्टर्ड फ्लाइट में अमृतसर एयरपोर्ट पहुंचे 179 यात्रियों में से जिन 125 पैसेंजर्स की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई, उनमें से 9 यात्री एयरपोर्ट अथॉरिटी और सेहत विभाग को चकमा देकर फरार हो गए। ये सभी अमृतसर जिले के रहने वाले हैं। विदेश से आए कोरोना मरीजों के फरार होने की जानकारी मिलते ही अमृतसर जिला प्रशासन और सेहत विभाग के अधिकारियों में हड़कंप मच गया। अमृतसर के डिप्टी कमिश्नर (DC) गुरप्रीत सिंह खैहरा ने सभी 9 मरीजों के खिलाफ एपिडेमिक एंड डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट के तहत केस दर्ज करने के आदेश दे दिए। जिला प्रशासन की टीमें सभी मरीजों के परिवारों से संपर्क साधने के अलावा उनकी तलाश में जुटी हैं।

गुरुवार सुबह साढ़े 11 बजे रोम (इटली) से चार्टर्ड फ्लाइट अमृतसर एयरपोर्ट पर लैंड हुई। इस फ्लाइट में 179 यात्री सवार थे। इन सभी के पास भारतीय पासपोर्ट थे और ये सभी पंजाब के अलग-अलग जिलों के रहने वाले थे। केंद्र सरकार की कोरोना गाइडलाइंस के मुताबिक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ने परिसर के अंदर ही विदेश से आए इन सभी यात्रियों के कोरोना टेस्ट करवाए। इस जांच में 179 पैंसेजर्स में से 125 की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई।

अमृतसर एयरपोर्ट पर पैसेंजर्स के सैंपल लेते हुए प्राइवेट लैब के कर्मचारी।
अमृतसर एयरपोर्ट पर पैसेंजर्स के सैंपल लेते हुए प्राइवेट लैब के कर्मचारी।

कोरोना पॉजिटिव निकले 125 यात्रियों में से 13 अमृतसर के
कोरोना पॉजिटिव पाए गए 125 यात्रियों में से 13 अमृतसर जिले के रहने वाले थे जबकि 112 अन्य जिलों से थे। अमृतसर प्रशासन ने दूसरे जिलों से ताल्लुक रखने वाले 112 मरीजों को सेहत विभाग की निगरानी में उनके जिलों के लिए रवाना कर दिया जबकि अमृतसर जिले के 13 मरीजों को गुरु नानक देव अस्पताल में भर्ती कराने का फैसला लिया गया। सेहत विभाग की टीम ने जब अमृतसर जिले से ताल्लुक रखने वाले कोरोना पॉजिटिव पाए गए यात्रियों की तलाश शुरू की तो वहां सिर्फ 4 यात्री मिले। 9 यात्री अमृतसर एयरपोर्ट की सुरक्षा में तैनात CISF के जवानों को चकमा देकर वहां से निकल चुके थे।

डीसी ने कार्रवाई के आदेश दिए
सेहत विभाग ने इसकी जानकारी तुरंत अमृतसर के डीसी गुरप्रीत सिंह खैहरा को दी। गुरप्रीत सिंह खैहरा खुद कोरोना पॉजिटिव हैं और होम आइसोलेशन में हैं। सेहत विभाग की सूचना के बाद डीसी ने अमृतसर जिले की एडीसी रूही दुग को फरार होने वाले सभी 9 यात्रियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दे दिए। डीसी ने पुलिस को सभी 9 यात्रियों के खिलाफ एपिडेमिक एंड डिजास्टर मैनेजमेंट के तहत मामला दर्ज करने को कहा है। उधर सेहत विभाग ने एयरपोर्ट पर मिले अमृतसर जिले के 4 मरीजों को गुरु नानकदेव अस्पताल में दाखिल करवा दिया।

अमृतसर एयरपोर्ट परिसर के अंदर खड़े यात्री।
अमृतसर एयरपोर्ट परिसर के अंदर खड़े यात्री।

सुबह तक पेश नहीं हुए तो पासपोर्ट रद्द कराएगा प्रशासन
डीसी गुरप्रीत सिंह खैहरा के अनुसार, सेहत विभाग के पास फरार होने वाले सभी यात्रियों के पासपोर्ट की डिटेल और दूसरा पूरा ब्यौरा है। प्रशासन की अलग-अलग टीमों ने इन सभी के परिवारों से संपर्क साधकर स्पष्ट कर दिया है कि अगर सुबह तक ये यात्री खुद गुरु नानकदेव अस्पताल नहीं पहुंचे तो उनके खिलाफ आगे की कार्रवाई शुरू की जाएगी। इसमें िवदेश मंत्रालय के जरिये उनके पासपोर्ट तत्काल प्रभाव से रद्द कराना शामिल है। साथ ही इन सभी के नाम 10 नंबरी फाइल में दर्ज किए जाएंगे

निजी लैब का स्टाफ करता है एयरपोर्ट में कोरोना जांच
अमृतसर एयरपोर्ट के अंदर विदेश से आने वाले यात्रियों की कोरोना जांच का टेंडर एयरपोर्ट अथॉरिटी ने एक निजी लैब को दे रखा है। इसी लैब के स्टाफ ने इटली से आए इन यात्रियों के कोरोना टेस्ट किए थे। इसके बाद एयरपोर्ट अथॉरिटी को इन्हें सेहत विभाग को हैंडओवर किया जाना था मगर उससे पहले ही ये यात्री एयरपोर्ट की सुरक्षा संभालने वाले CISF के जवानों को चकमा देकर वहां से निकल गए।

खबरें और भी हैं...