पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सही कदम:मंदिर कमेटियों का ऐलान, शाम 6 बजे के बाद भक्तों की एंट्री नहीं

अमृतसर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना की रफ्तार कम के लिए सरकार की ओर से मंदिरों पर लगाई पाबंदी पर अमल शुरू

कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम करने के लिए पंजाब सरकार ने रविवार को मंदिरों को शाम 6 बजे से पहले बंद करने के निर्देश दिए हैं, जिन पर मंदिर कमेटियां सोमवार से ही अमल करना शुरू कर देंगी। उत्तर भारत के प्रसिद्ध मंदिर दुर्ग्याणा तीर्थ, रानी का बाग माता लाल देवी मंदिर और शिवाला बाग भाइयां ट्रस्ट की कमेटियाें ने इस संबंध में रविवार को बैठक कर शाम 6 बजे के बाद मंदिरों में श्रद्धालुुओं की एंट्री पर रोक लगाने का फैसला किया। दुर्ग्याणा कमेटी के प्रधान एडवोकेट रमेश शर्मा ने बताया कि सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए शाम 6 बजे के बाद मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिया जाएगा। रात 9 बजे पंडित श्रीठाकुर जी की शायन आरती करके कपाट बंद कर देंगे।

\उधर, शिवाला बाग भाइयां ट्रस्टी व प्रधान रामपाल चतरथ और बलदेव राज बग्गा का कहना है कि सरकार ने जिस दिन से शाम 6 बजे से कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है, उसी दिन से श्रद्धालु़ओं के लिए मंदिर बंद किया जा रहा हैै। शाम साढ़े 7 बजे शायन आरती के बाद 8 बजे तक मंदिर के सभी पुजारी अपने-अपने घरों को चले जाते हैं। इसके लिए बाकायदा शिवाला कमेटी की तरफ से पंडितों के पत्र जारी किए हैं ताकि सड़क पर जाते समय पुलिस उन्हें न रोके।

रानी का बाग स्थित माता लाल देवी मंदिर के प्रधान विजय शर्मा और यशपाल जोशी ने बताया कि मंदिर में माथा टेकने आने वाले हरेक श्रद्धालु को सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा जाता है। मुंह पर मास्क और सेनेटाइजर का इस्तेमाल भी करवाया जाता है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के चलते शाम 6 बजे मंदिर के कपाट भक्तों के लिए बंद कर दिए जाते हंै। पंडित सवा आठ बजे शायन आरती करके अपने घरों को चले जाते हैं।

आज से 15 मई तक सिर्फ जरूरी सामान की दुकानें खोलने की होगी अनुमति

डीसी गुरप्रीत सिंह खैहरा ने बढ़ते कोरोना संक्रमण को थामने के लिए नए आदेश जारी किए गए हैं। इसके तहत 15 मई तक सिर्फ जरूरी सामान की दुकानों को ही खोलने की अनुमति होगी। राजीनति रैली या शादी समारोहों या किसी भी तरह की भीड़ इकट्‌ठ करने पर आयोजक, टेंट हाउस, आयोजन में शामिल लोगों व संस्थान के मालिक पर पर्चा दर्ज किया जाएगा। यदि किसी मैरिज पैलेस की ओर से नियमों का उल्लंघन किया गया तो उसे 3 महीने के लिए सील कर दिया जाएगा।

दूसरे राज्यों से आने वाले यात्रियों को 72 घंटे पहले कोविड टेस्ट कराना 2 हफ्ते पहले की वैक्सीनेशन होनी चाहिए। यदि कोई व्यक्ति धार्मिक व शादी समारोहों, राजनीतिक समारोहों में शामिल होता है तो उसे 5 दिन तक होम क्वारंटाइन रहना होगा। साथ ही कोरोना भी टेस्ट कराएंगे। जो सरकारी कर्मचारी वैक्सीन नहीं लगवा लेते वह दफ्तर नहीं आएंगे। माइक्रो कंटेनमेंट जोन में सख्ती की जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

    और पढ़ें