पंजाब में तरनतारन बॉर्डर पर दिखा ड्रोन:BSF के जवानों ने आवाज सुनकर 7 राउंड फायर करके खदेड़ा, सर्च ऑपरेशन भी चलाया

अमृतसर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब के सरहदी जिले तरनतारन में पाकिस्तान ने एक बार फिर ड्रोन भेजा, लेकिन BSF जवानों की सतर्कता के चलते पाक तस्करों व शरारती तत्वों की कोशिश नाकामयाब हो गई। ड्रोन की आवाज सुनने के बाद BSF के जवानों ने 7 राउंड फायर भी किए, जिसके बाद ड्रोन पाकिस्तान सरहद में वापस चला गया। इलाके में BSF और पुलिस की तरफ से सर्च ऑपरेशन चलाया गया, लेकिन कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली।

मिली जानकारी के अनुसार, बीती रात BSF की बटालियन 103 के जवान सरहद पर पहरा दे रहे थे। तकरीबन 1 बजे BOP नूरांवाला के गांव मस्तगढ़ में ड्रोन की आवाज सुनाई दी। आवाज सुनते ही जवानों ने फायरिंग की। ड्रोन की तरफ जवानों ने 7 राउंड फायर किए। कुछ मिनटों के बाद ड्रोन पाकिस्तान सरहद में वापस चला गया और आवाज बंद हो गई। इसके बाद BSF और स्थानीय पुलिस ने इलाके में सर्च ऑपरेशन भी चलाया।

नशे के साथ हथियारों का आना चिंता का विषय

तरनतारन बॉर्डर पर ड्रोन की मूवमेंट चिंता का विषय बनी हुई है। 6 दिन पहले भी तरनतारन सेक्टर में ही ड्रोन की मूवमेंट मिली थी, तब BSF जवानों ने 5 राउंड फायर किए थे। गुरदासपुर-तरनतारन और अमृतसर के बॉर्डर एरिया में ड्रोन की मूवमेंट काफी अधिक देखने को मिल रही है, जो चिंता का विषय है। पाकिस्तानी तस्कर अब हेरोइन के साथ-साथ हथियार भी भेज रहे हैं, जिससे सुरक्षा एजेंसियों की चिंता और ज्यादा बढ़ गई है।

15 अगस्त की सुरक्षा के लिए खतरा

भारत इस साल 15 अगस्त को अमृत महोत्सव के तौर पर मना रहा है। ऐसे में पाकिस्तान की तरफ से ड्रोन मूवमेंट का बढ़ना सुरक्षा के लिए खतरा है। बीते साल जुलाई-अगस्त 2021 की ही बात करें तो पाकिस्तान की तरफ से ड्रोन मूवमेंट काफी अधिक बढ़ गई थी। उस समय 15 अगस्त से 7 दिन पहले 8 अगस्त 2021 को अजनाला में टिफिन बम के साथ पेट्रोल टैंकर में ब्लास्ट किया गया था।