• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Amritsar
  • For 71 Years, The Congress BJP Rule In The Central Legislative Assembly Elections 13 Times; Out Of These, Congress Won 7 Times And BJP Won 6 Times.

सेंट्रल में जीत की हैट्रिक नहीं:विधानसभा हलका सेंट्रल में 71 बरसों से कांग्रेस-भाजपा का ही राज 13 बार चुनाव; इनमें 7 बार कांग्रेस और 6 बार बीजेपी ने बाजी मारी

अमृतसर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • साल 1951 में कांग्रेस प्रत्याशी अमीर चंद गुप्ता ने आरआरपी के बलदेव प्रकाश को हराया था
  • सबसे ज्यादा तीन बार भाजपा की प्रो. चावला और कांग्रेस के प्रो. दरबारी लाल ही जीते

विधानसभा हलका सेंट्रल की सीट के पिछले 71 सालों के इतिहास में कांग्रेस और भाजपा का ही राज रहा है। इस हलका में हुए 13 चुनावों में से 7 बार कांग्रेस और 6 बार भाजपा ने जीत हासिल की है। इसमें सबसे ज्यादा बार भाजपा की प्रो. लक्ष्मीकांता चावला और कांग्रेस के प्रो. दरबारी लाल ने तीन बार जीत हासिल की है। वहीं कई उम्मीदवार लगातार दो बार जीते तो जरूर लेकिन हेट्रिक नहीं बना पाए। वर्तमान में कांग्रेस के डिप्टी सीएम ओपी सोनी पिछले दो चुनावों में लगातार जीत हासिल कर चुके हैं। उनका इस हलका से अब तीसरा चुनाव है।

प्रो. चावला ने दरबारी लाल को 3 बार और प्रो. लाल ने प्रो. चावला को दो बार हराया

हलका सेंट्रल में वर्ष 1951 में कांग्रेस के अमीर चंद गुप्ता ने (अखिल भारतीय राम राज्य परिषद (आरआरपी) के उम्मीदवार बलदेव प्रकाश को हराकर जीत हासिल की थी। इसके बाद भारतीय जनसंघ के बलराम दास टंडन ने कांग्रेस के जय इंदर सिंह को हराकर जीत हासिल की। वर्ष 1969 में बलराम दास टंडन ने कांग्रेस चंदन लाल को हराकर दोबारा जीत हासिल की थी। वर्ष 1972 में कांग्रेस के प्रताप चंद ने भारतीय जनसंघ के बलदेव प्रकाश को हराया। वर्ष 1977 में जनता पार्टी के बलराम दास टंडन ने कांग्रेस के दरबारी लाल को मात दी थी। इसके बाद 1980 में कांग्रेस के प्रो. दरबारी लाल ने भाजपा के देवदत्त शर्मा, वर्ष 1985 में प्रो. दरबारी लाल ने भाजपा की प्रो. लक्ष्मीकांता चावला को हराया, वर्ष 1992 और 1997 में भाजपा की प्रो. लक्ष्मी कांता चावला ने कांग्रेस के प्रो. दरबारी लाल को लगातार दो बार मात दी थी। इसके बाद वर्ष 2002 में प्रो. दरबारी लाल ने भाजपा की प्रो. लक्ष्मीकांता चावला और वर्ष 2007 में भाजपा की प्रो. लक्ष्मीकांता चावला ने कांग्रेस के प्रो. दरबारी लाल को हराया। इस तरह से भाजपा की प्रो. चावला ने कांग्रेस के प्रो. दरबारी लाल को तीन बार चुनावों में मात दी, जबकि प्रो. दरबारी लाल ने प्रो. चावला को दो बार हराया था।

ओम प्रकाश सोनी से 2 बार चुनाव हार चुके हैं भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुघ

विधानसभा सेंट्रल सीट से कांग्रेस के ओपी सोनी दो बार जीत हासिल कर चुके हैं। जिसमें वर्ष 2012 मेंं बाजपा के तरुण चुघ को हराया था। इस चुनाव में सोनी को 47,357 (55.32%) और चुग को 30126 (40.37%) वोट मिले थे। वहीं वर्ष 2017 में सोनी ने दूसरी बार लगातार जीत हासिल करते हुए तरुण चुघ को हराया। इसमें सोनी का वोट बैंक भी बढ़ा था और उन्हें 53.86% वोट मिले थे। दूसरी ओर भाजपा के तरुण चुुघ के वोट घटकर 36.32% रहे थे। तरुण चुघ वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव हैं।

कारोबार का गढ़ है विधानसभा सेंट्रल हलका

विधानसभा हलका सेंट्रल कारोबार का गढ़ माना जाता है। जिसमें होलसेल कपड़ा मार्केट, रेडीमेड, ज्वैलरी, बर्तन, पापड़-बड़ियां, ड्राइफ्रूट मार्केट, काॅस्मैटिक बाजार, होलसेल करियाना, इलेक्ट्रिकल का कारोबार है। इसमें शास्त्री मार्केट, हाल बाजार, रामबाग, कटड़ा जैमल सिंह, टाहली साहिब बाजार, कैशधारा बाजार, गुरू बाजार, मजीठ मंडी मुख्य बाजार हैं।

खबरें और भी हैं...