सीएम को कोई कुछ बोले, जवाब मैं दूंगा:कैप्टन ने जो साढ़े चार साल में नहीं किया, सीएम चन्नी ने उसे तीन महीनों में किया है

अमृतसर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीएम चन्नी के हक में बोलते हुए नवजोत सिंह सिद्धू। - Dainik Bhaskar
सीएम चन्नी के हक में बोलते हुए नवजोत सिंह सिद्धू।

पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू ने बुधवार मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के हक में बोलते दिखे और एक बार फिर कैप्टन अमरिंदर सिंह पर निशना साध दिया। सिद्धू ने स्पष्ट कह दिया कि जो भी सीएम को कुछ बोलेगा, उसका जवाब मैं दूंगा। चरणजीत सिंह चन्नी ने तीन महीने में वह कर दिखाया है, जो कैप्टन अमरिंदर सिंह ने साढ़े चार साल में नहीं किया। इसी दौरान उन्होंने आम आदमी पार्टी सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल की गरंटियों को भी निशाने पर लिया।

सिद्धू ने कहा कि चरणजीत सिंह चन्नी ने जो भी किया है पार्टी की रजामंदी से किया है। वह सब जल्दी-जल्दी करना चाहते हैं। लेकिन वह उन कामों को भी ठीक ही करेंगे। चुनावों के पास हर कोई स्कीमें लेकर आ जाता है। लेकिन पंजाब को स्कीमों की नहीं, सही पॉलिसी की जरूरत है। हर काम के पीछे बजट होता है, उसी से काम सीधे होते हैं। उन्होंने आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल के गरंटियों पर निशाना साधा और कहा कि पंजाब में 26 लाख नौकरियों, मुफ्त बिजली और महिलाओं को पेंशन की घोषणाएं की जा रही हैं। जिनका खर्च 1 लाख 9 हजार करोड़ रुपए है। लेकिन असल में पंजाब का बजट ही 72 हजार करोड़ है। ऐसी स्कीमों से पंजाब और ढूब जाएगा।

गुरु नगरी के कामों को रोकने का खामियाजा मिला अकालियों व कैप्टन को

सिद्धू ने कहा कि अकाली दल और कैप्टन अमरिंदर सिंह को गुरु नगरी के काम रोकने का खामियाजा मिला है। तभी आज कैप्टन आए और गए हैं। पहले बादल परिवार ने गुरु नगरी के काम शुरु करवा कर बोल दिया, छह महीने में पूरे हो जाएंगे, लेकिन हुआ कुछ नहीं। इसके बाद कैप्टन ने कामों को करवाने की बात कही, लेकिन गुरु नगरी के कामों को फिर रोक दिया। सभी को यह बात समझ जानी चाहिए कि गुरु नगरी के कामों को रोक कर कोई चलने वाला नहीं है। यह लोगों के पैसे हैं, जो उनकी सेवा में लगने हैं।

केबल 100 रुपए में नहीं देना, पर माफिया को खत्म करना है

सिद्धू ने केबल माफिया पर भी बोलते हुए कहा कि सीएम चन्नी का मतलब 100 रुपए में केबल देना नहीं है। ट्राई का ही न्यूनतम मूल्य 130 रुपए है। इसलिए यह संभव नहीं, लेकिन वह सीएम के साथ बैठकर पॉलिसी लेकर आएंगे, ताकि माफिया खत्म हो सके। इसके साथ ही उन्होंने दरबार साहिब से सीधा प्रसारण एक ही चैनल को देने का भी विरोध किया। जल्द ही इस पर भी पॉलिसी लाई जाएगी।

रात के समय डिप्टी सीएम ओम प्रकाश सोनी से मिलने पहुंचे नवजोत सिंह सिद्धू।
रात के समय डिप्टी सीएम ओम प्रकाश सोनी से मिलने पहुंचे नवजोत सिंह सिद्धू।

सोनी से सीटों को लेकर बातचीत

मंगलवार रात के समय सिद्धू डिप्टी सीएम ओम प्रकाश सोनी के घर पहुंचे, जहां उन्होंने शहर की सीटों पर विचार भी किया। इस बार कांग्रेस के लिए नई चुनौती है। पहले अकाली दल व भाजपा जहां एक साथ चुनावी मैदान में उतरते थे, इस बार दोनों पार्टियां अपने उम्मीदवारों के साथ मैदान में उतरेगी। डिप्टी सीएम सोनी से सिद्धू ने इसी मुद्दे पर बातचीत भी की और इलाके में विकास कामों में तेजी लाने पर भी विचार किया।

खबरें और भी हैं...