टोक्यो ओलंपिक:इंडिया की जीत के लिए रातभर वाहेगुरु से अरदास करते रहे हरमन के पिता और भाई

अमृतसर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • हॉकी में अर्जेंटीना की 3-1 से हार
  • सुबह होते ही परिजनों को मिली खुशखबरी

गुरुनगरी से टोक्यो आंलंपिक खेलने गए हरमनप्रीत (24) के पिता सरबजीत सिंह व बड़े भाई कोमलप्रीत सिंह इंडिया की जीत के लिए रातभर वाहेगुरु से अरदास करते रहे। सुबह हाेते ही इंडिया के जीतने की खबर मिली तो खुशी से झूम उठे। अर्जेंटीना पर जीत के बाद गांववालों को उम्मीद है कि अब हरमन गोल्ड मैडल जीतकर ही लौटेगा।

मैच शुरू होते ही टीवी के सामने बैठ जाते हैं गांववाले
मैच शुरू होने के बाद गांववाले टीवी के सामने बैठ जाते हैं और मैच खत्म होने के बाद ही उठते हैं। हरमनप्रीत जबसे ओलंपिक में खेलने के लिए गया है, तब से हरमन ने सिर्फ दो बार ही घरवालों से बात की है। वह जब भी बात करता है तो गांव के कई लोग इकठ्ठा होकर सुनना चाहते हैं, लेकिन बहुत बात नहीं हो पाती। कोरोना के कारण खिलाड़ियों को बाहर कम निकलने दिया जाता है।

खबरें और भी हैं...