पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भयानक आग:तिमंजिला हार्डवेयर गोदाम में भीषण आग, साढ़े छह घंटे में 75 गाड़ी पानी से बुझाई

अमृतसर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
6 जगह से गेट-शटर काटने के बाद अंदर घुस पाई फायर ब्रिगेड की टीम - Dainik Bhaskar
6 जगह से गेट-शटर काटने के बाद अंदर घुस पाई फायर ब्रिगेड की टीम
  • हुसैनपुरा चौक में सुबह 5 बजे हादसा, फायर ब्रिगेड के 100 मुलाजिमों काे करनी पड़ी कड़ी मशक्कत

हुसैनपुरा चौक पोस्ट ऑफिस की बैकसाइड स्थित 4 नंबर गली में हार्डवेयर के गाेदाम में रविवार सुबह 5 बजे भयानक आग लग गई। जिसे काबू पाने के लिए नगर निगम-सेवा समिति फायर ब्रिगेड, एयरफोर्स और एसजीपीसी के 100 मुलाजिमों को साढ़े 6 घंटे तक कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। इसमें इन सभी की तरफ से लगाई गई 14 गाड़ियों ने वाटर रिफिलिंग के लिए 75 चक्कर लगाकर ढाई लाख लीटर पानी डाला।

वहीं अंदर जाने का रास्ता तंग होने के कारण फायर टेंडर आगजनी वाली जगह से 30 फीट दूर ही रोकने पड़े और 60 होज पाइपें जोड़ कर आग पर पानी बरसाया गया। इस आग से आस-पास की बिल्डिंग्स को बचाने के लिए 400 लीटर एक्सूएस फिल्म फार्मिंग फोम (पानी मिलाकर) का इस्तेमाल भी किया गया। वहीं अभी तक आग लगने का कारण सामने नहीं आया है।

फायर ब्रिगेड और आस-पास के लोगों ने बताया कि बिल्डिंग से करीब 5 बजे धुआं निकलना शुरू हुआ था। जिसके बाद इलाके वालों ने फायर ब्रिगेड को सूचित किया। हार्डवेयर के गोदाम में फेविकोल, गत्ता, प्लास्टिक का सामान वगैरह पड़ा था, जिसके कारण आग काफी भड़क गई। इस बारे में सूचना मिलने पर थाना रामबाग की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।

आग इतनी भयानक थी कि बिल्डिंग की दीवारों से भी धुआं बाहर आना शुरू हो गया। फायर ब्रिगेड के डिवीजनल एडीएफओ लवप्रीत सिंह के मुताबिक बिल्डिंग अंदर की तरफ डेढ-दो सौ फीट की थी, जिसमें की जगह पार्टीशन होने के कारण अंदर जाकर आग पर काबू पाना बहुत मुश्किल था। इसके लिए 10 मुलाजिमों को फायर सूट पहनाकर ऑक्सीजन मास्क पहना अंदर भेजा गया। जिसमें तीन घंटे तक करीब 10 ऑक्सीजन सिलेंडर इस्तेमाल किए गए। वहीं बिल्डिंग के अंदर जाने के लिए 6 जगह से गेट और शटर काटे गए।

3 घर खाली करवाने पड़े

डिवीजनल एडीएफओ लवप्रीत सिंह के मुताबिक आगजनी से बचाने के लिए साथ लगते तीन घर खाली करवाए गए थे, जिन्हें आग पर कंट्रोल करके 12 बजे के करीब दोबारा घर भेज दिया गया। फायर ब्रिगेड के पास पौने छह बजे आग लगने की सूचना आई था। इसके बाद नगर निगम की 12, सेवा सोसाइटी की एक, एयरफोर्स की एक और एसजीपीसी की एक गाड़ी वहां पहुंच गई।

दिवाली की रात 14 जगह पर लगी आग : दिवाली की रात 14 जगह पर आगजनी की घटनाएं होने के फायर ब्रिगेड की गाडिय़ां लगातार सड़कों पर दौड़ती रहीं। फायर ब्रिगेड विभाग के मुताबिक सबसे पहली काॅल रात 8.35 बजे प्रीत विहार नजदीक पुरानी चुंगी छेहर्टा से आई। इसके अलावा सिविल अस्पताल के पास, मीराकोट, इंदिरा कालोनी झब्बाल रोड, कोर्ट रोड, पुतलीघर, गांव मुगरपुरा आदि में भी आग लगी।

खबरें और भी हैं...