पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सेवा केंद्रों में सुविधा:बढ़ाए अप्वाइंटमेंट स्लॉट; टाइप-1 सेंटर में सबसे अधिक 35 स्लॉट, रोजाना 245 लोग ले सकेंगे अप्वाइंटमेंट

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डिमांड को देखते हुए बढ़ाए गए स्लॉट, टाइप-2 सेंटर में सबसे अधिक 1792 लोगों को अप्वाइंटमेंट की सुविधा

कोरोना के मद्देनजर सेवा केंद्रों में सिटिजन को अप्वाइंटमेंट लेने के बाद अपना काम कराने की सुविधा दी है। लोगों की सुविधाओं को देखते हुए गवर्नेंस ऑफ रिफॉर्म की तरफ से स्लॉट बढ़ा दिए गए हैं। बता दें कि 1 घंटे के हिसाब से लोगों को अप्वाइंटमेंट स्लॉट निर्धारित किए गए थे। शुरुआत में तहसील कॉम्प्लेक्स स्थित टाइप1 सेवाकेंद्र में पहले हर घंटे 14 स्लॉट निर्धारित था जिसे बढ़ाकर अब 35 कर दिया गया है।

यानि कि 7 घंटे ड्यूटी के दौरान 245 स्लॉट निर्धारित किए गए हैं। वहीं शहरी इलाकों के टाइप-2 सेंटर में कुल 16 सेंटर हैं और यहां प्रत्येक सेंटर में अप्वाइंटमेंट स्लॉट बढ़ाकर 16 कर दिए गए हैं। जबकि पहले महज 8 लोगों को अप्वाइंटमेंट लेने की सुविधा थी। वहीं कुल सेंटरों की बात करें तो 1792 सिटीजन को सेवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। जबकि टाइप-3 ग्रामीण इलाकों में 23 सेंटर हैं और यहां 8 अप्वाइंटमेंट स्लॉट निर्धारित किए गए हैं।

यहां सभी सेंटरों में करीब 1288 अप्वाइंटमेंट लेकर काम कराने की सुविधा दी गई है। बता दें कि गवर्नेस ऑफ रिफॉर्म से आदेश जारी होने के बाद सेंटरों व काउंटरों में लोगों की भीड़ कम जुटे इसलिए यह व्यवस्था की गई है। लेकिन लोगों की डिमांड को देखते हुए अप्वाइंटमेंट स्लॉट बढ़ा दिए गए हैं। सेवा केंद्र के असिस्टेंट टेक्निकल को-ऑर्डिनेटर नवप्रीत सिंह ने बताया कि टाइप-1 सेंटर में पहले भी करीब 250 से 300 सिटीजन सेवाओं का लाभ उठाने के लिए तहसील कॉम्प्लेक्स स्थित सेवा केंद्र पहुंचते थे।

शुरुआत में अप्वाइंटमेंट लेने के बारे में लोगों को जानकारी कम थी, इसलिए स्लॉट भी कम रखे गए थे। वहीं अब लोगों की डिमांड को देखते हुए अप्वाइंटमेंट की संख्या सभी सेंटरों में बढ़ा दी है। भीड़ को मैनेज करने के लिए नई बिल्डिंग स्थित सेवाकेंद्र के भी 5 से 6 काउंटर चलाए जा रहे हैं।

सिटीजन की सुविधाओं का रख रहे ध्यान: डीएम
सिटीजन की सभी सुविधाओं का ध्यान रखा जा रहा है। डिमांड को देखते हुए स्लॉट बढ़ाई गई हैं और लोगों के उनके नजदीकी सेंटरों में ही काम कराए जा रहे। जानकारी के लिए जारी हेल्पलाइन नंबरों पर लोग मदद ले सकते हैं।
-संजय आहूजा, डिस्ट्रिक्ट मैनेजर

खबरें और भी हैं...