• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Amritsar
  • More Than 500 Or Only 50 Percent Of The Capacity Will Have Spectators In Ramlila Maidan, CCTV Is Also Necessary] Out Of 16, Only 2 Committees Got Permission

कोरोना गाइडलाइंस के बीच राम-लीला:500 तक या मैदान की कैपेसिटी से 50% दर्शक ही आ सकेंगे, सीसीटीवी जरूरी 16 में से अब तक सिर्फ 2 कमेटियों को अनुमति

अमृतसर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दुर्ग्याणा में होने वाली राम लीला की प्रेक्टिस करते हुए कलाकार। - Dainik Bhaskar
दुर्ग्याणा में होने वाली राम लीला की प्रेक्टिस करते हुए कलाकार।

15 अक्टूबर को दशहरा है, मगर इस बार कोरोना के कारण मर्यादा पुरुषोत्तम की ‘रामलीला’ का मंचन सरकारी मर्यादा (गाइडलाइंस) की वजह से अधर में लटका हुआ है। इस साल सुरक्षा के मद्देनजर अलग से गाइडलाइंस जारी हैं, वहीं कोरोना गाइडलाइंस का अलग से पालन करना जरूरी है। फिलहाल परमीशनें डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस कार्यालय से मिल रही हैं और उन्हें पूरी तरह से लागू करवाने की जिम्मेदारी लोकल थानों को दी गई है।

बीते दिनों पंजाब सरकार की तरफ से जारी कोरोना गाइडलाइंस के अनुसार राम लीला का मंचन 500 से अधिक दर्शकों या ओपन एरिया कैपेसिटी के 50% से अधिक दर्शकों के साथ ही करने की हिदायत है। वहीं राम लीला में लोगों को मास्क पहने रखने की भी हिदायतें जारी की गई हैं। फिलहाल DCP ऑफिस में से राम लीला के लिए 16 ने आवेदन दिए हैं। जिनमें से सिर्फ दो को ही अनुमति दी गई है। वहीं राम लीला कमेटियों को हिदायतों बता दी गई हैं, जैसे ही वे इन हिदायतों को पूरा कर लेंगे, उन्हें प्रमीशन दे दी जाएगी। डीसीपी लॉ एंड आर्डर परमिंदर सिंह बंडाल ने बताया कि प्रमीशनों के लिए गाइडलांइस जारी हैं। वहीं दूसरी तरफ अतिरिक्त सुरक्षा का भी इंतजाम किया गया है।

CCTV के साए में होगी राम लीला

इस साल राम लीला CCTV कैमरों की देखरेख में हो रही है। सभी कमेटियों को हिदायत दी गई है कि वे मैदान में CCTV कैमरे लगवाएं। इतना ही नहीं रोजाना की CCTV फुटेज भी संबंधित थानो में जमा करवाएं। इससे पुलिस सुरक्षा पर भी नजर रखेगी और वहीं दूसरी तरफ यह भी देखा जाएगा कि राम-लीला कमेटी ने कोरोना गाइडलाइंस पर ध्यान दिया या नहीं।

सुरक्षा के मद्देनजर हथियारों को साथ लेकर जाने पर मनाही

राम लीला कमेटियों को हिदायत है कि मैदान में किसी भी प्रकार के हथियार को लेकर जाने की मनाही है। इतना ही नहीं संबंधित थानों को कहा गया है कि राम लीला से कुछ समय पहले पूरे मैदान की जांच करें, ताकि वहां राम लीला देखने आए लोगों की सुरक्षा यकीनी बनाई जा सके।

रेलवे ट्रैक या मेन रोड़ के करीब नहीं दी गई प्रमीशन

2018 में दशहरे की घटना से सबक लेते हुए पुलिस प्रशासन ने खास हिदायत दी है कि कोई भी कार्यक्रम रेलवे ट्रैक के करीब आयोजित ना किया जा सके। इतना ही नहीं कोई भी कार्यक्रम मेन रोड के पास भी ना किया जा सके। ताकि कोई बड़ी दुर्घटना ना हो और मेन रोड पर भी जाम जैसी स्थिति ना बन सके।

दुर्ग्याणा राम लीला मैदान में 24 घंटे रहेगी पुलिस

DCP बंडाल ने जानकारी दी कि दुर्ग्याणा में राम लीला मैदान में 24 घंटे पुलिस रहेगी। तीन शिफ्टें होगी और रोटेशन पर ड्यूटी बदलती रहेगी। इतना ही नहीं अन्य जगहों पर भी राम लीला के समय सुरक्षा बल तैनात रहेंगे। संबंधित थाना राम लीला मैदान की सुरक्षा अपने हाथों में लेगा। राम लीला से पहले पूरे मैदान की चैकिंग होगी, ताकि कोई दर्शकों की सुरक्षा यकीनी हो सके।

खबरें और भी हैं...