पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जहरीली शराब कांड:किसी को एक बार में नहीं बेच सकते 4 लीटर से ज्यादा स्प्रिट, लुधियाना के कारोबारी ने बेच डाला 600 लीटर

अमृतसर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • देहाती पुलिस ने लुधियाना के पेंट कारोबारी को गिरफ्तार कर रिमांड पर लिया, गोदाम में सर्च

(सतीश शर्मा) जहरीली शराब से लोगों के मरने से जुड़े केस में अमृतसर देहाती पुलिस ने सोमवार शाम को लुधियाना के पेंट कारोबारी राजीव जोशी को गिरफ्तार कर 7 अगस्त तक रिमांड पर ले लिया। मंगलवार को पुलिस की टीम ने लुधियाना में जोशी की दुकान और रेलवे लाइन से लगते गोदाम पर रेड भी की। गोदाम में डेढ़ सौ से ज्यादा ड्रम मिले, जिनमें मिथेनॉल एल्कोहल या वुड स्प्रिट होने का शक हैं।
एक्साइज के नियमानुसार, स्प्रिट का लाइसेंस रखने वाला काराेबारी एक बार में किसी को सिर्फ 4 लीटर स्प्रिट बेच सकता है। उसे इसका रिकॉर्ड भी रखना होता है मगर राजेश जोशी ने 33 हजार रुपए में मोगा के रविंदर आनंद को सेनेटाइजर बनाने के लिए 600 लीटर स्प्रिट बेच डाला। आनंद ने स्प्रिट अवतार सिंह और अवतार सिंह ने उसे तरनतारन के पंडोरी गोला गांव के हरजीत सिंह व उसके बेटों सतनाम-शमशेर को बेच दिया। सतनाम-शमशेर ने स्प्रिट से शराब बनाकर बेची जिसे पीकर लोगों की मौत हो गई। पुलिस को पेंट कारोबारी से पंजाब-दिल्ली के कुछ कारोबारियों के कनेक्शन भी पता चले हैं।

लुधियाना से 4 लोगों को प्रोडक्शन वारंट पर लाई तरनतारन पुलिस
तरनतारन पुलिस जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में लुधियाना जेल से हरदीप सिंह, निम्मा, गुरदीप और अच्छर सिंह को प्रोडक्शन वारंट पर लाकर पूछताछ कर रही है। ये चारों पटियाला से नकली शराब लाकर आगे सप्लाई करते थे। इन चारों से प्रारंभिक पूछताछ में पता चला है कि निम्मा और हरदीप अमृतसर-तरनतारन एरिया में अवैध शराब का धंधा करते थे। निम्मा ड्राइवर था और कंसाइनमेंट पहुंचाने की जिम्मेदारी उसी की होती थी। गुरदीप सिंह हरदीप से ही शराब लेकर तरनतारन और अमृतसर के आसपास इलाकों में सप्लाई करता था। अच्छर सिंह गुरपाल का साथी है।

हरजीत और शमशेर सिंह की तलाश
देहाती पुलिस मिलावटी स्प्रिट से जहरीली शराब बनाकर आगे सप्लाई करने वाले तरनतारन जिले के पंडोरी गोला गांव में रहने वाले सतनाम सिंह को भी पकड़ चुकी है। सतनाम का पिता हरजीत सिंह और भाई शमशेर फरार है।

अमृतसर-तरनतारन में 20 कारोबारियों के पास हैं स्प्रिट बेचने के एल-17 लाइसेंस
अमृतसर-तरनतारन की बात करें तो अमृतसर के 19 और तरनतारन के एक कारोबारी के पास स्प्रिट बेचने के लिए एक्साइज विभाग का एल-17 लाइसेंस है। यह लाइसेंस हर साल रिन्यू करवाना पड़ता है। इनमें से प्रत्येक लाइसेंस पर 500 लीटर प्रतिमाह स्प्रिट का कोटा फिक्स है।

मंगलवार को तरनतारन में 1 लाश का पोस्टमार्टम
मंगलवार को तरनतारन सिविल अस्पताल में जहरीली शराब पीकर मरने वाले एक शख्स का पोस्टमार्टम किया गया। उसका अमृतसर के वल्ला में इलाज चल रहा था। तरनतारन में जोधपुर रोड पर रहने वाले इस शख्स की लाश मंगलवार शाम 4 बजे सिविल अस्पताल लाई गई।

मोगा में रविंदर के ‘आनंद कंडा’ पर ताला

अमृतसर देहाती पुलिस द्वारा पकड़े गए मोगा के कारोबारी रविंदर आनंद के ठिकानों पर मंगलवार को मोगा पुलिस ने रेड की मगर वहां ताले लगे मिले। 53 साल के आनंद का मोगा फोकल प्वाइंट में ‘आंनद कंडा’ है। लॉकडाउन में आनंद ने सेनेटाइजर बनाने के लिए लुधियाना के कारोबारी से मिलावटी स्प्रिट खरीदा और आगे बेच दिया। मोगा सिटी के डीएसपी बरजिंदर भुल्लर ने कहा, जांच कर रहे हैं कि आनंद अगर स्प्रिट का इस्तेमाल कर रहा था तो उसने जरूरी लाइसेंस वगैरह लिए थे या नहीं?

शख्स की मौत, परिवार का आरोप -शराब पी थी, पुलिस बता रही हार्ट अटैक से मौत

थाना कच्चा पक्का के तहत आते गांव घुरकविंड के शख्स गुरसाहिब सिंह की सोमवार को मौत हो गई। उसकी पत्नी अमनदीप कौर ने बताया कि उसका पति रविवार को तरनतारन गया था, जब वह शाम को वापस आया तो उसकी तबीयत बिगड़ने शुरू हो गई। उन्होंने उसका उसका चेकअप करवाया, जिसके बाद सोमवार सुबह उसे भिखीविंड के एक निजी अस्पताल में दाखिल करवा दिया।

उसकी स्थिति क्रिटिकल होने पर उसे अमृतसर रेफर किया गया, लेकिन वहां पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि गुरसाहिब की मौत जहरीली शराब पीने के कारण हुई है। हालांकि संबंधित थाना कच्चा पक्का के एसएचओ गुरनेक सिंह का कहना है कि गुरसाहिब सिंह की मौत हार्ट अटैक से हुई है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें