अमृतसर में नूपुर शर्मा के खिलाफ प्रदर्शन:मुस्लिम समुदाय ने FIR दर्ज करने की उठाई मांग, राष्ट्रपति और CM के नाम सौंपा ज्ञापन

अमृतसर4 महीने पहले
मस्जिद के अंदर प्रदर्शन करते हुए मुस्लिम समुदाय के लोग।

पंजाब के अमृतसर में मुस्लिम समुदाय में नूपुर जोशी के बयान के बाद गुस्सा है। शुक्रवार दोपहर हॉल गेट स्थित मस्जिद में एकत्रित होकर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने नूपुर जोशी और अन्य हिंदू नेताओं के खिलाफ प्रदर्शन किया। इसके साथ ही उन्होंने राष्ट्रपति और CM भगवंत मान के नाम ज्ञापन भी पुलिस को सौंपा है।

पुलिस काे ज्ञापन सौंपते हुए पुलिस समुदाय के लोग।
पुलिस काे ज्ञापन सौंपते हुए पुलिस समुदाय के लोग।

मुस्लिम समुदाय के लोग शुक्रवार बड़ी संख्या में बैनर और पोस्टर लेकर हॉल गेट स्थित मस्जिद में पहुंचे। जिसमें नूपुर जोशी और नवीन जिंदल की तस्वीरें लगी हुई थी। इस प्रदर्शन को देख लोकल पुलिस सतर्क हो गई और प्रदर्शनकारियों को समझा-बुझाकर घर भेजने की तैयारी शुरू कर दी। IPS अभिमन्यु राणा मौके पर पहुंचे और प्रदर्शनकारियों से बातचीत की। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने अभिमन्यु राणा को दो ज्ञापन सौंपे, जिनमें से एक मुख्यमंत्री भगवंत मान और दूसरा देश के राष्ट्रपति के नाम था।

लोकल स्तर पर FIR की मांग

मुस्लिम समुदाय के लोगों का कहना था कि नूपुर जोशी ने पैगंबर मोहम्मद के बारे में विवादित टिप्पणी कर मुस्लिम समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। उन्होंने पुलिस से मांग की कि भाजपा की पूर्व वक्ता नूपुर जोशी और नवीन जिंदल के खिलाफ अमृतसर में भी FIR दर्ज की जाए।

एक डिबेट में की थी टिप्पणी

नूपुर जोशी ने एक टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी कर दी थी, जिसे लेकर लगातार बवाल का दौर जारी है। पूरे देश में नूपुर जोशी के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं। हालांकि बीजेपी ने डैमेज कंट्रोल करने के लिए उन्हें पार्टी से निकाल दिया है, लेकिन मुस्लिम समुदाय उनकी टिप्पणी से भड़का हुआ हे। इस मामले ने अंतरराष्ट्रीय रूप ले लिया है। ईरान, सऊदी अरब, बहरीन, यूएई, कतर समेत कई इस्लामिक देशों ने इस मसले पर आपत्ति जाहिर की थी।