पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राेष प्रदर्शन:हड़ताल के 7वें दिन डॉ. वेरका के घर पहुंचे पनबस मुलाजिम, विधायक ने दिया पक्ष रखने का भरोसा

अमृतसर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब राेडवेज पनबस और पीआरटीसी कान्ट्रैक्ट वर्कर्स यूनियन के हड़ताल पर चल रहे मुलाजिम ने सातवें दिन भी बसें बंद रखकर रविवार काे मुलाजिमों ने हलका पश्चिम के विधायक डाॅ. राजकुमार वेरका के घर के बाहर राेष प्रदर्शन किया। जैसे ही मुलाजिम प्रदर्शन करने पहुंचे ताे कुछ ही देर में विधायक डाॅ. राजकुमार वेरका घर से बाहर माैजूद मुलाजिमों के बीच आ पहुंचे। इस दाैरान उन्होंने मुलाजिमों काे कहा कि वह मंगलवार काे हाेने वाली मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और यूनियन नेताओं की बैठक में विधायक के ताैर पर नहीं, बल्कि शिष्टमंडल की तरफ से शामिल हाेंगे।इससे पहले बारिश के दाैरान मुलाजिमों की तरफ से डाॅ. राजकुमार वेरका का घर घेरा गया ताे वह खुद ही मुलाजिमों के बीच अा गए। उन्होंने मुलाजिमों की बात सुनी और उनकी मांगाें पर गाैर किया। उन्होंने कहा कि वह नेता या विधायक से पहले आम इंसान हैं।

इसलिए जाे भी उनके पास मुश्किल लेकर आता है उसकी बात सुनना और विधायक के ताैर पर यह समस्याएं सरकार तक पहुंचाना उनका फर्ज है। गाैरतलब है कि यूनियन के फैसले मुताबिक पंजाब राेडवेज डिपो-1 के प्रधान हीरा सिंह और डिपो 2 के प्रधान केवल सिंह की अगुवाई में सैकड़ों मुलाजिम पहले 9 बजे बस वर्कशाप के गेट पर इकट्‌ठा हुए और फिर काफिले के रूप में डॉ. वेरका के घर के बाहर पहुंचे। हीरा सिंह और केवल

सिंह की अगुवाई में दिए ज्ञापन में लिखा गया कि पंजाब राेडवेज पनबस-पीआरटीसी के कच्चे कर्मियों ने सरकार की ओर से लाेगाें की सुविधा के लिए चलाई मुहिम काे कामयाब बनाने में अहम भूमिका निभाई है। 2017 के बाद सरकार ने कई विभागों में काम करने वाले मुलाजिमों काे पक्का किया गया है। अगर वे मुलाजिम पक्का हो सकते हैं तो राेडवेज, पनबस और पीआरटीसी के मुलाजिमों काे पक्का करने में आनाकानी नहीं होनी चाहिए।

खबरें और भी हैं...