पंजाब में चुनाव आयोग की सी-विजिल ऐप वर्किंग:6 दिन में 23 जिलों से मिलीं 1158 शिकायतें, एक दिन में 187; जांच में सही पाई गईं 80%

अमृतसर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर

चुनाव आयोग ने वर्ष 2019 के स्वतंत्र एवं निष्पक्ष लोकसभा चुनाव कराने के लिए सी-विजिल ऐप को लॉन्च किया था। कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भी इसका प्रयोग किया गया था। इस पर चुनाव के दौरान आचार संहिता के उल्लंघन की तमाम शिकायतें अपलोड होती हैं, जो चुनाव आयोग तक पहुंचती हैं। ऑन रिकॉर्ड होने के कारण इन शिकायतों का समाधान भी तुरंत होता है। अब देश के 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। पंजाब में ऐप एक्टिव हो गई है और चुनाव घोषणा के 6 दिन के अंदर 1158 शिकायतें इस ऐप पर पहुंच चुकी हैं।

खास बात यह है कि सी-विजिल ऐप चुनाव घोषित होने के साथ ही काम करना शुरू कर देती है। यह मतदान के 1 दिन बाद तक प्रभावी रहता है। पंजाब में 23 जिलों में यह एेप काम कर रही है। बीते 7 दिनों में इस ऐप पर 1158 शिकायतें पहुंच रही हैं। इनमें से 80 प्रतिशत कार्रवाई के दौरान सही पाई जा रही हैं। एक दिन में इस ऐप पर एवरेज 187 के करीब शिकायतें पहुंच रही हैं। मिली जानकारी के अनुसार, कोई भी व्यक्ति इस ऐप के जरिए कहीं भी आचार संहिता के उल्लंघन की जानकारी दे सकता है।

सी-विजिल ऐप चुनावी गड़बड़ियों पर तत्काल लगाम लगाने में सहायक है। यह ऐप सिर्फ चुनाव की घोषणा वाले स्थानों पर ही काम करती है। ऐप का बीटा वर्जन लोगों व चुनाव कर्मियों के लिए उपलब्ध होता है। जिससे वे इसके बारे में जानकारी जुटा सकेंगे। इस ऐप के आने से नागरिकों को चुनाव के संबंध में शिकायत दर्ज कराने के लिए अधिकारी के पास दौड़ नहीं पड़ता। वे मौके पर ही तस्वीर या वीडियो बनाकर ऐप पर शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

स्मार्ट फोन जरूरी होता है

सी-विजिल ऐप के लिए कैमरा, इंटरनेट कनेक्शन और जीपीएस वाला एंड्रॉयड स्मार्ट फोन जरूरी होता है। शिकायत के लिए कोई भी नागरिक आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की एक तस्वीर या अधिक से अधिक 2 मिनट का वीडियो रिकॉर्ड करके इस ऐप पर भेज सकता है। इसमें शिकायतकर्ता की पहचान गुप्त रखी जाती है। जीपीएस की मदद से शिकायत वाले स्थान की पहचान की जा सकती है। इसे एंड्रॉयड यूजर प्ले स्टोर से और आईफोन यूजर एप्पल स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं।

शिकायत को ट्रैक भी किया जा सकता है

शिकायत दर्ज करने के बाद शिकायतकर्ता को एक यूनिक आईडी मिलेगी, जिससे वह आगे की कार्रवाई को ट्रैक कर सकता है। शिकायत दर्ज होने के बाद सूचना जिला नियंत्रण कक्ष के पास जाएगी। फिर इसे फील्ड इकाई को दिया जाएगा। इस ऐप पर केवल आदर्श आचार संहिता उल्लंघन की ही शिकायत की जा सकेगी। फोटो और वीडियो बनाने के बाद यूजर्स को सिर्फ 5 मिनट का समय मिलेगा। पहले से ली गई फोटो व वीडियो अपलोड करने की अनुमति नहीं होती और शिकायतकर्ता लाइव लोकेशन से ही तस्वीर व वीडियो भेज सकता है।

अपने समार्ट फोन से ऐसे करें शिकायत
- ऐप इन्स्टॉल करने के बाद आपको नाम, पता, राज्य, जिला, विधानसभा और पिनकोड की जानकारी देते हुए रजिस्ट्रेशन करना होगा।

- शिकायत करने के लिए एक OTP की मदद से इसका वैरिफिकेशन किया जाता है।

- वैरिफाई होने के बाद फोटो या कैमरे वाले विकल्प को सेलेक्ट करना होगा।

- आप कोई फोटो या फिर 2 मिनट तक की वीडियो ऐप पर अपलोड कर सकते हैं।

- दिए गए कॉलम में शिकायत की जानकरी दें।

- चुनाव आयोग को GPS से फोटो/वीडियो की लोकेशन भी पता चल जाती है।

- इसके बाद आपको एक यूनीक आईडी मिलेगी, जिसके जरिए शिकायत को ट्रैक कर सकते हैं।

100 मिनट में शिकायत का निपटारा

शिकायत करने के बाद जिला नियंत्रण कक्ष को सूचना जाती है। पंजाब में डीसी ऑफिस और चुनाव आयोग कार्यालय चंडीगढ़ में यह नियंत्रण कक्ष स्थापित है। फिर इसे फील्ड यूनिट को सौंपा जाता है। ऐप पर जो भी फोटो, वीडियो और डेटा अपलोड होगा, वह 5 मिनट के अंदर स्थानीय चुनाव अधिकारी के पास चला जाएगा। आयोग का दावा है कि शिकायत सही पाए जाने पर 100 मिनट के अंदर उस पर कार्रवाई होती है।

पंजाब में आने वाली शिकायतें बोर्ड व पोस्टरों को लेकर

पंजाब में आने वाली 80 प्रतिशत शिकायतें राजनीतिक बोर्डों या पोस्टरों को लेकर पहुंच रही हैं। इनमें से 75 प्रतिशत के करीब सही पाई जाती हैं और चुनाव आयोग के अनुसार तुरंत उन पर कार्रवाई भी की जाती है।

स्थान----- 8 जनवरी से अब तक--- एक दिन में

पंजाब ----------1158------------------- 187

लुधियाना-------- 265 -------------------44

जालंधर ---------179 --------------------45

अमृतसर ---------28---------------------- 4

पटियाला---------- 71 --------------------17

मोगा----------------44-------------------- 6

SBS नगर--------- 42 --------------------5

रूपनगर-------------- 8 --------------------1

फतेहगढ़ साहिब----- 3 --------------------1

खबरें और भी हैं...