विधानसभा चुनाव 2022 की सर्विलांसिंग:उम्मीदवारों के खर्च पर नजर रखेंगी 11 टीमें, 12 ग्रुप कैमरों के साथ करेंगी जिले की चैकिंग

अमृतसर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चुनाव पर नजर रखने के लिए सर्विलांस टीमों का गठन हर जिले में किया जाएगा। - Dainik Bhaskar
चुनाव पर नजर रखने के लिए सर्विलांस टीमों का गठन हर जिले में किया जाएगा।

पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 का ऐलान होते ही आचार संहिता लग गई है। इसके साथ ही अमृतसर जिले में सर्विलांस टीमें एक्टिव हो गई हैं। एडीसी जनरल रूही दुग के नेतृत्व में जिला स्तरीय एक्सपैंडिचर मॉनिटरिंग सेल का गठन किया गया है। 6 और टीमें गठित की गई हैं, जो चुनाव सही तरीके से करवाने की कोशिश करेंगी। 8 अधिकारियों की टीम होगी, जो शहर में हो रहे खर्चे पर नजर रखेगी।

वीडियो सर्विलांस टीम और वीडियो व्यूइंग टीमों का भी गठन कर दिया गया है। 1 जिला स्तरीय और 11 विधानसभा हलकों के लिए टीमें गठित हुई हैं। वीडियो कैमरों के माध्यम से यह टीमें रैलियों व राजनीतिक पार्टियों के कामों पर नजर रखेंगी। इन टीमों में विभिन्न सरकारी स्कूलों के अध्यापकों को लगाया गया है। वहीं 11 विधानसभा स्तरीय व दो जिला स्तरीय टीमें भी बनाई गई हैं, जो रिकॉर्ड की गई वीडियो की जांच करेंगी।

11 असिस्टेंट एक्सपैंडिचर ऑब्जर्वर

जिले के उम्मीदवारों के खर्च पर नजर रखने के लिए 11 असिस्टेंट एक्सपैंडिचर ऑब्जर्वर लगाए गए हैं। हर विधानसभा हलके में एक ऑब्जर्वर लगाया गया है, ताकि तय सीमा से अधिक खर्च न हो सके। इनके साथ ही 11 एकाउंट टीमें भी लगाई गई हैं, जो उम्मीदवारों के रिकॉर्ड की जांच करती रहेंगी।

35 उड़न दस्ते रखेंगे निगरानी

जिले में 35 उड़न दस्ते बनाए गए हैं। 2 दस्ते जिला स्तरीय होंगे, लेकिन 11 हलकों के लिए 33 और उड़न दस्ते होंगे। इन 33 दस्तों में 99 लोग शामिल किए गए हैं, ताकि हलके में हो रही गतिविधियों की पूरी रिपोर्ट तैयार की जा सके। इनके अलावा 2 जिला स्तरीय टीमों के साथ 33 स्टैटिक सर्विलांस टीमें भी लगाई गई हैं, जो आंकड़ों को इकट्‌ठा करेंगी।

खबरें और भी हैं...