पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सूरज ढलने के बाद संस्कार करना पाप:दुर्ग्याणा शिवपुरी में शाम साढ़े 6 बजे के बाद नहीं होंगे संस्कार

अमृतसर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना के कारण रोजाना 10 से 15 मरीजों की मौत हो रही है, जिस कारण शहर के मुख्य श्मशानघाट दुर्ग्याणा शिवपुरी में लोग और जिला प्रशासन के अफसर देर शाम को भी संस्कार कराने पहुंच रहे हैं। शिवपुरी का प्रबंधन करने वाली दुर्ग्याणा कमेटी के प्रधान एडवोकेट रमेश शर्मा ने बताया कि जिला प्रशासन की ओर से कई बार शाम ढलने के बाद कोरोना मरीजों का संस्कार करवाया जाता है, जबकि सनातन धर्म के मुताबिक सूर्य अस्त के बाद किसी का दाह संस्कार नहीं होता। वह ऐसा करके पाप का भागी नहीं बनना चाहते।

इसलिए कमेटी ने फैसला किया है कि अब शाम साढ़े 6 बजे के बाद किसी का भी दाह संस्कार नहीं किया जाएगा। रमेश शर्मा ने बताया कि शिवपुरी में रोजाना 32 से 40 दाह संस्कार हो रहे हैं। मृतकों के परिजन चौथे दिन अस्थिस्थल से अस्थियां चुनकर पोटलियों में भरते हैं, इसलिए यहां दाह संस्कार के लिए अस्थि स्थलों की कमी महसूस हो रही है। यहां करीब 75 अस्थिस्थल हैं, मगर क्योंकि लोग चौथे दिन अस्थियां चुनने आ रहे हैं, इसलिए ये जल्द खाली नहीं हो पा रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आज की स्थिति कुछ अनुकूल रहेगी। संतान से संबंधित कोई शुभ सूचना मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। धार्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करने से मानसिक शांति भी बनी रहेगी। नेगेटिव- धन संबंधी किसी भी प्रक...

    और पढ़ें