दुबई भागने वाले थे मूसेवाला के कातिल:मुंडी 2 साथियों के साथ दार्जिलिंग में पकड़ा गया, नेपाल में मिलने थे फेक पासपोर्ट

अमृतसर3 महीने पहले

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला का गोलियां मारकर कत्ल करने वाले छठे शूटर दीपक मुंडी व उसके दो साथियों को शनिवार दार्जिलिंग में खारी बावड़ी की BOP पानी टंकी से गिरफ्तार किया गया। मुंडी अपने दो साथियों कपिल पंडित और राजेंद्र जोकर के साथ नेपाल बॉर्डर क्रास करने की तैयारी में थे। गोल्डी बराड़ ने तीनों आरोपियों को फेक पासपोर्ट या लैंड रूट से दुबई में सेटल करने का वादा किया था।

डीजीपी गौरव यादव।
डीजीपी गौरव यादव।

डीजीपी पंजाब गौरव यादव ने जानकारी दी कि बीते 105 दिन दीपक मुंडी और कपिल पंडित पहले हरियाणा, फिर राजस्थान, यूपी, बिहार से होते हुए वेस्ट बंगाल पहुंचे थे। राजेंद्र जोकर पहले से ही नेपाल में था। नेपाल में ही उन्हें फेक पासपोर्ट उपलब्ध करवाए जाने थे, जिनकी मदद से तीनों आरोपी काठमांडू से फ्लाइट पकड़ बैंकॉक से दुबई जाने वाले थे। अगर पासपोर्ट ना भी मिलते तो आरोपी नेपाल से भूटान और फिर म्यान्मार के रास्ते भागने की तैयारी में थे। डीजीपी यादव ने जानकारी दी कि इस पूरे ऑपरेशन में पंजाब पुलिस के साथ दिल्ली पुलिस की टीम भी थी। जिसमें एआईजी गुरमीत चौहान, एआईजी संदीप गोयल और डीएसपी विक्रम बराड़ पंजाब से रवाना किए गए थे।

पंडित को भेजा था सलमान का मर्डर करने

कपिल पंडित ने पूछताछ में जानकारी दी कि लॉरेंस बिश्नोई ने विदेश में बैठे गोल्डी बराड़और संपत की मदद से संपर्क किया था। वह उसे सलमान खान का कत्ल करवाना चाहते थे। इसके लिए वह कई दिन मुम्बई में भी रहकर आया। डीजीपी यादव ने बताया कि इसके लिए वह जरूरत पढ़ने पर पंजाब पुलिस की टीम को मुम्बई भी रवाना करेंगे।

10 आरोपी भी पुलिस हिरासत से दूर

डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि इस पूरे मामले में 35 लोगों को नामजद किया गया है। जिनमें से अभी तक 23 लोग पुलिस हिरासत में आ चुके हैं। वहीं दो काे अमृतसर में इंटेरोगेशन कर दिया गया था। सचिन बिश्नोई को यूरोप के अजरबाइजान में डिटेन किया जा चुका है। गोल्डी बराड़ के नाम का रेड कार्नर नोटिस जा हो चुका है। जल्द ही उसे भी भारत लाया जाएगा। एक और को गिरफ्तार करने की तैयारियां चल रही हैं।

रिंदा के 25 स्लिपर सैल कि न्यूट्रलाइज

गैंगस्टरों व आतंकियों के एक साथ वारदातों को अंजाम देने पर डीजीपी पंजाब ने चिंता जाहिर की। पाकिस्तान में छिपे बैठे गैंगस्टर से आतंकी बनी हरविंदर सिंह रिंदा के एक सवाल पर डीजीपी पंजाब ने जानकारी दी कि बीते दिनों पंजाब पुलिस ने रिंदा के 25 स्लिपर सैल को न्यूट्रलाइज किया है। जबकि बीते दिनों पकड़ा गया नछत्तर सिंह, एक ऐसा सैल था, जो आरडीएक्स से बम बनाना जानता था। जिसकी गिरफ्तारी के बाद रिंदा के मॉड्यूल को बड़ा झटका लगा है।