पाकिस्तान के लिए सिख जत्था रवाना:महाराजा रणजीत सिंह का जन्मदिवस मनाने के लिए 266 श्रद्धालुओं को मिला वीजा

अमृतसर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महाराजा रणजीत सिंह का जन्म दिवस मनाने के लिए मंगलवार को सिख श्रद्धालुओं का एक जत्था पाकिस्तान के लिए रवाना किया गया। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) के कार्यालय से जत्थे को अटारी सीमा के लिए बसों से रवाना किया गया। इस साल पाकिस्तान ने 266 सिख श्रद्धालुओं को वीजा देकर गुरुधामों के दर्शनों की अनुमति दी है।

SGPC की तरफ से पाकिस्तान के लिए भेजा गया सिख जत्था।
SGPC की तरफ से पाकिस्तान के लिए भेजा गया सिख जत्था।

SGPC की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार, इस साल 277 श्रद्धालुओं का वीजा पाकिस्तान ऐंबेसी के पास भेजा गया था, लेकिन इनमें से 11 श्रद्धालुओं का वीजा किसी कारण रद्द कर दिया गया। इसके बाद मंगलवार सुबह 266 श्रद्धालुओं को पाकिस्तान भेज दिया गया। मंगलवार को गया जत्था 30 जून को लौटेगा। इस दौरान श्रद्धालु पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारों के दर्शन करेंगे।

SGPC की तरफ से पाकिस्तान के लिए भेजा गया सिख जत्था।
SGPC की तरफ से पाकिस्तान के लिए भेजा गया सिख जत्था।

महाराजा रणजीत सिंह की समाधि

सिख श्रद्धालुओं का जत्था इन 10 दिनों में गुरुद्वारों के साथ-साथ पाकिस्तान के लाहौर में स्थित महाराजा रणजीत सिंह की समाधि पर भी जाएगा। इसके अलावा पाकिस्तान स्थित ननकाना साहिब, पंजा साहिब और गुरुद्वारा करतारपुर साहिब में भी नतमस्तक होगा। इसके बाद यह जत्था 30 जून को अटारी सीमा के रास्ते भारत लौट आएगा।