दबंगई / 1600 रुपए न देने पर एसआई के बेटों ने 20 साथियों संग दोस्त पर चलाई गोलियां

पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से एक दो नाली हथियार भी बरामद किया है। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से एक दो नाली हथियार भी बरामद किया है।
X
पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से एक दो नाली हथियार भी बरामद किया है।पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से एक दो नाली हथियार भी बरामद किया है।

  • कर्फ्यू से पहले रेस्टाेरेंट में खाए खाने के पैसे दोस्त से लेने थे
  • युवकों के खिलाफ हत्या प्रयास और आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत केस दर्ज

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:23 AM IST

अमृतसर. कर्फ्यू से पहले रेस्टोरेंट में खाना खाने के बाद दोस्तों ने आधे बिल के 1600 रुपए नहीं चुकाने पर बीए थर्ड ईयर के स्टूडेंट के घर के बाहर पहुंच गोलियां चला दीं। गुरुरवार रात करीब 9 बजे की घटना के बाद थाना बी डिवीजन पुलिस ने कर्णदीप सिंह की शिकायत पर 10 बाय-नेम और 10 अज्ञात युवकों के खिलाफ हत्या प्रयास और आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

पुलिस ने दो आरोपियों प्रिंस निवासी खालसा नगर कोट मित्त सिंह, अनमोल शर्मा निवासी अमृतसर को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से एक दोनाली भी बरामद की गई है। वहीं दो आरोपी अंतरप्रीत सिंह और तेजबीर पंजाब पुलिस के सब इंस्पेक्टर के बेटे बताए जा रहे हैं।

थाना बी डिवीजन के एसएचओ गुरविंदर सिंह ने बताया कि 7-8 फायर हुए हैं। सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही है। दो आरोपी अंतरप्रीत सिंह और तेजबीर सिंह सब इंस्पेक्टर के बेटे बताए जा रहे हैं, लेकिन कानून के मुताबिक हर आरोपी पर कार्रवाई की जाएगी।

दो तीन दिन से मांग रहा था पैसे

शिकायतकर्ता कर्णदीप सिंह निवासी कपूर नगर सुल्तानविंड के मुताबिक वह गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी कैंपस वेरका में बीए थर्ड ईयर का स्टूडेंट है। वह पढ़ाई के साथ भाई सतनाम सिंह के साथ सुल्तानविंड रोड पर वाशिंग सेंटर के नाम पर कार वाशिंग और ऑटो रिपेयर शाॅप भी चला रहा है। वहीं आरोपी विशाल निवासी चुंगी वाला बाजार सुल्तानविंड रोड उसका परिचित है। कर्फ्यू से पहले उसने और विशाल ने इकट्ठे दोस्तों में एक रेस्टोरेंट में खाना खाया था। बिल आधा-आधा देना था। विशाल 2-3 दिन से उसके हिस्से के 1600 रुपए मांग रहा था, लेकिन वह पैसे नहीं दे पाया। 21 मई रात करीब 9 बजे वह घर के बाहर मेन रोड पर खड़ा था। करीब 9:45 बजे अंतरप्रीत सिंह, तेजबीर सिंह उर्फ तेजा, विशाल, प्रिंस निवासी खालसा नगर कोट मित्त सिंह, शाला, मनु निवासी सुल्तानविंड, इंडियन निवासी न्यू आजाद नगर, भोलू किरपाण, रविंदर निवासी भाई मंझ सिंह रोड, अनमोल शर्मा और उनके साथ कुछ अज्ञात हथियारबंद कार-बाइकों पर सवार होकर घर के बाहर आ गए। अंतरप्रीत ने पिस्टल से सीधा फायर उसकी तरफ किया, जिसपर उसने अपने गेट की दीवार के पीछे छिप कर अपना बचाव किया। इसके बाद बाकी आरोपियों ने फायरिंग की।

पहले भी हमला हुआ : मनजीत कौर

शिकायतकर्ता की माता मनजीत कौर के मुताबिक उसका बेटा गुरू नानक देव यूनिवर्सिटी कैंपस वेरका  का प्रधान है। आरोपियों ने रात दर्जन के करीब फायर किए हैं। इससे पहले भी आरोपियों ने उसके बेटे पर टाहली वाला चौक में गोलियां चलाईं थी, और वह बाल-बाल बचा था।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना