पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विक्रमजीत-सुखबीर सुसाइड केस:सब इंस्पेक्टर संदीप कौर डिसमिस, पनाह देने वाले 5 गिरफ्तार, 2 दिन घर में रखने वाला कांस्टेबल सस्पेंड

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विक्रमजीत-सुखबीर की बेटी।
  • सीएम तक मामला पहुंचने के बाद तेज हुई पुलिस कार्रवाई

एसएसपी देहाती ध्रुव दहिया ने मंगलवार को नवांपिंड के विक्रमजीत सिंह विक्की और सुखबीर कौर की आत्महत्या के केस की मुख्य आराेपी सब इंस्पेक्टर संदीप कौर को पुलिस विभाग से डिसमिस कर दिया। उसे पनाह देने वाले 5 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इनमें उसकी माैसी, माैसी के दो बेटे और एक बेटी भी शामिल है।

संदीप पर केस दर्ज होने के बाद उसे दो दिन अपने घर में रखने वाले अमृतसर कमिश्नरेट पुलिस की सीआरसी ब्रांच के कांस्टेबल गगनदीप सिंह उर्फ गुरबीर सिंह को भी सस्पेंड कर दिया गया है। गगनदीप ने अजनाला रोड स्थित ग्रीन सिटी में अपने घर में उसे रखा था।

पुलिस ने कार्रवाई में यह तेजी मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के ध्यान में मामला आने के बाद दिखाई है। अभी तक पुलिस इसमें ढीली कार्रवाई ही कर रही थी और पीड़ित इंसाफ के लिए दर-दर भटक रहे थे। संदीप की गिरफ्तारी के लिए भी छापेमारी जारी है।

सबसे पहले ग्रीन सिटी में जिस कांस्टेबल के घर छिपी थी वह फरार

मामले की जांच कर रही एसआईटी की जांच में कई नए खुलासे हुए हैं, जिस दिन विक्रमजीत सिंह ने बटाला रोड के होटल में आत्महत्या की थी, उस दिन मामला दर्ज होने के बाद दो दिन आरोपी सब-इंस्पेक्टर ने गगनदीप के ग्रीन सिटी स्थित घर में पनाह ली थी।

गगन अभी फरार चल रहा है। मंगलवार को एसएसपी ध्रुव दहिया की ओर से जारी सब इंस्पेक्टर संदीप कौर के डिसमिस ऑर्डर में कहा गया है कि महिला सब इंस्पेक्टर ने अनुशासनिक फोर्स की मेंबर होते हुए संगीन जुर्म किया। इससे पुलिस का अक्स खराब हुआ। यह अनुशासन के खिलाफ है। उस पर लगे आरोप गंभीर हैं। वह पुलिस नौकरी करने के काबिल नहीं है। उसे 20 अक्टूबर दोपहर के बाद से नौकरी से बर्खास्त किया जाता है।

विक्रम के परिवार की मांग-2 साल से संदीप बनवा रही आलीशान कोठी, इस पर खर्च रकम की हो जांच

विक्रम के पिता सविंदरजीत सिंह ने बताया कि 2 साल से संदीप कौर नवांपिंड में आलीशान कोठी बनवा रही है। इसका निर्माण 24 माह से चल रहा है। इस कोठी को बनाने पर खर्च रकम की भी जांच होनी चाहिए। इस निर्माणाधीन कोठी के बाहर छोटे गेट पर सीसी कैमरे तक लगे हैं।

बेटी बोली- मौत के जिम्मेदार हर शख्स पर दर्ज हो केस

पूर्व कांग्रेसी नेता मनदीप सिंह मन्ना और विक्रम-सुखबीर की बेटी तन्नप्रीत कौर ने मंगलवार को पुलिस कमिश्नर डॉ. सुखचैन सिंह गिल से मुलाकात की। उन्होंने पुलिस कमिश्नर से उन सभी लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की, जिनके नाम विक्रम ने जान देने से पहले लिए थे। पुलिस कमिश्नर डॉ. सुखचैन सिंह गिल ने उन्हें संदीप कौर और बाकी आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी का भरोसा दिया।

पनाहगारों को कत्थूनंगल से दबोचा, मौसी का बेटा संभाल रहा संदीप कौर के पशु
थाना जंडियाला गुरु के एसएचओ हरचंद सिंह ने बताया कि मंगलवार को गिरफ्तार किए गए लोगों में संदीप कौर की थाना कत्थूनंगल के तहत आते गांव अजैबवाली में रहने वाली माैसी कश्मीर कौर, माैसी के बेटे सुखजीत सिंह, कुलविंदर सिंह, बेटी मनदीप कौर और सर्बजीत सिंह निवासी भाेरसी शामिल हैं।

मौसी और उसके बच्चों ने संदीप कौर पनाह दी थी। इसलिए उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया है।आरोपी संदीप कौर परिवार समेत घर से फरार है। उसके पीछे कुलविंदर सिंह निवासी गांव छीना ने उसके जानवरों की संभाल भी की थी। कांस्टेबल गगनदीप के खिलाफ भी पनाह देने का केस दर्ज किया गया है।

10 अक्टूबर को की थी पति-पत्नी ने आत्महत्या

विक्रमजीत ने 10 अक्टूबर 2020 को सब इंस्पेक्टर संदीप कौर की ओर से 18 लाख रुपए वापस न किए जाने से दुखी होकर बटाला रोड स्थित होटल माहल के एक कमरे में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी। मृतक ने मरने से पहले छह ऑडियो मैसेज और एक सुसाइड नोट लिखा था, जिसमें उसने मौत का जिम्मेदार एसआई संदीप कौर और कुछ अन्य लोगों को बताया था।

इस संबंध में पुलिस थाना मोहकमपुरा में संदीप कौर के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज किया गया था। उसी रात विक्रम की मौत से परेशान होकर उसकी पत्नी सुखबीर कौर ने भी आत्महत्या कर ली थी। इस संबंध में पुलिस संदीप कौर के खिलाफ 306 को केस दर्ज किया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें