AAP के टारगेट पर सुखबीर:अरविंद केजरीवाल बोले- सुखबीर बादल उनके विरुद्ध ही क्यों बयान देते हैं... CM चन्नी के खिलाफ क्यों नहीं बोलते..?

अमृतसर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आम आदमी पार्टी संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सवाल पूछते हुए अकाली दल अध्यक्ष सुखबीर बादल पर निशाना साधा है। केजरीवाल ने ट्वीट कर सुखबीर बादल के अमृतसर में दिए बयान पर सवाल उठाया है।

शिरोमणि अकाली दल (SAD) के अध्यक्ष सुखबीर बादल ने आम आदमी पार्टी के वायदों को पहले दिल्ली में लागू करने की बात कही थी और आप को झूठा भी करार दिया था। केजरीवाल ने इसके जवाब में ट्वीट कर कहा कि- ये बेहद दिलचस्प बात है कि सुखबीर बादल साहब केवल मेरे खिलाफ बोलते हैं, कभी चन्नी साहिब के खिलाफ एक लफ्ज नहीं बोलते। क्यों?

केजरीवाल का ट्वीट।
केजरीवाल का ट्वीट।

दरअसल, यह पहली बार नहीं है जब सुखबीर बादल ने केजरीवाल की घोषणाओं को लेकर बयानबाजी की है। केजरीवाल ने हर महीने 200 यूनिट फ्री देने की बात कही थी, उसके अगले ही दिन सुखबीर बादल ने हर महीने 300 यूनिट फ्री देने का ऐलान कर दिया। AAP संयोजक ने जब महिलाओं को 1000 रुपए देने की बात कही तो इस पर भी सुखबीर ने इसे पहले दिल्ली में लागू करने की बात कर दी। वहीं अन्य कांग्रेस ने इसे नामुमकिन करार दिया था।

शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल।
शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल।

SAD के लिए सीटें की संख्या बढ़ाना चुनौती

राजनीतिक विश्लेषकों के अनुसार अकाली दल के लिए पंजाब में अपनी पहचान बनाए रखने के लिए 2022 के चुनावों में आम आदमी पार्टी से अधिक सीटें लेना जरूरी है। 2017 के चुनावों की बात करें तो आप को जहां 17 सीटें मिलीं थीं, वहीं अकाली दल 14 के आंकड़े पर सिमट गया था। इस बार बीजेपी के अलग हो जाने के कारण सीटों के गणित पर भी असर पड़ेगा। लेकिन अकाली दल के कार्यक्रमों का विरोध उसके लिए सबसे बड़ी चुनौती बन रहा है। इस बार भी आम आदमी पार्टी अगर अकाली दल से अधिक सीटें ले लेती है तो शिअद के भविष्य पर इसका साफ असर पड़ेगा।