पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

48 विदेशी पिस्टल समेत पकड़ा जग्गू 20 तक रिमांड पर:सुपारी किलर परगट सिंह ने विदेश में बैठे आतंकियों से दिलवाए थे हथियार

अमृतसर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • परगट सिंह पर एक सरपंच, एनआरआई और शिवसेना नेता की हत्या का केस

कत्थूनंगल में 10 जून को 48 विदेशी पिस्टलों सहित पकड़े गए जगजीत सिंह उर्फ जग्गू तक असलहे की यह खेप सुपारी किलर परगट सिंह ने आतंकियों से संपर्क करके दिलवाई थी। अदालत से 20 जून तक जग्गू और जेल से प्रोड्क्शन वारंट पर लाए सुपारी किलर का 22 जून तक पुलिस रिमांड मिला है।

शुक्रवार को स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल (एसएसओसी) ने दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया। अब पुलिस विदेशों में बैठे हथियारों के सप्लायर, फंडिंग नेटवर्क का पता लगाने के लिए आरोपियों के मोबाइल की टेक्निकल जांच कराएगी।

जेल में बंद सुपारी किलर परगट सिंह के अमेरिका, कनाडा और पाकिस्तान में आतंकियों के साथ संपर्क हैं। इसी माध्यम से हथियार सप्लाई कराए थे। इसके अलावा प्रोडक्शन वारंट पर लाए तस्कर लवदीप सिंह और जोगिंदर सिंह उर्फ जग्गा से भी पूछताछ हो रही है। हाई प्रोफाइल सुपारी किलर परगट सिंह निवासी ढिलवां पर एक सरपंच, एनआरआई और शिवसेना नेता की हत्या के भी आरोप हैं।

विदेशाें में बैठे आतंकियों से परगट सिंह के संबंधाें की जांच कर रही एसएसओसी
जानकारी के मुताबिक पुलिस को बरामद मोबाइलों की कॉल डिटेल्स मिली हैं। इसके बाद टेरर फंडिंग नेटवर्क का पता लगाया जा रहा है। वहीं सोशल मीडिया से चलाए जा रहे नेटवर्क और विदेशों में बैठे आतंकियों के बारे में भी पूछताछ चल रही है। हथियारों की खेप कहां पहुंचाई जानी थी‌? और टारगेट के बारे में भी पुलिस पता लगाने में जुटी है।

आरोपियों के संबंध अमेरिका, कनाडा और पाकिस्तान में बैठे आतंकवादियों के साथ होने की बात भी सामने आई है। वहीं आरोपी परगट के जेल से ही विदेशों में आतंकियों से संबंध स्थापित करने के माध्यम का भी पता लगाने में जुटी है। 11 जून को अमृतसर पहुंचे एडीजीपी ढोके ने प्रेस कांफ्रेंस में विदेशी पिस्टलों की बरामदगी के मामले की जानकारी दी थी।

जिसमें बताया था कि एसएसओसी के डीएसपी हरविंदर सिंह ने पुख्ता सूचना पर 10 जून देर शाम को कत्थूनंगल में नाकेबंदी की थी। जहां एक आई-20 कार (पीबी02एएन 701) को चेक किया। कार में दो बैगों में से 48 विदेशी पिस्टल मिले। जिनमें 19 पिस्टल 9 एमएम (जिगाना मेड इन तुर्की), 37 मैगजीन और 45 राउंड, 9 पिस्टल प्वाइंट 30 बोर (मेड इन चाइना) 22 मैगजीन, 19 पिस्टल प्वाइंट 30 बोर (स्टार मार्क) 38 मैगजीन और 148 राउंड और 1 पिस्टल 9 एमएम (ब्रेटा-इटालियन) और दो मैगजीन बरामद हुए थे।

पुलिस के हत्थे चढ़े जग्गू निवासी पुरियां कलां यूएसए में बैठे व कई केसों में वांछित दरमनजीत सिंह उर्फ दरमन काहलों निवासी गांव तलवंडी खुम्मन के संपर्क में था। दरमन काहलों ने ही उसे इस काम के लिए तैयार किया था। दरमन वर्ष 2017 में यूएसए भाग गया था।

खबरें और भी हैं...