मस्कट में फंसी तरनतारन की बेटी:3 लाख कर्जा उतारने के लिए गई विदेश, बोली- मारा-पीटा जाता, खाना भी नहीं देते

अमृतसर21 दिन पहले

मृतक पिता के इलाज में खर्च किए तीन लाख रुपए का कर्जा उतारने के लिए विदेश गई तरनतारन की बेटी वापस आने के लिए भारत सरकार से मदद मांग रही है। इस युवती ने अपना वीडियो बना भारत भेजा है और बताया है कि उसके साथ तीन और लड़कियां भी हैं। युवती का कहना है कि मस्कट में उसे मारा-पीटा जा रहा है और खाना भी ठीक ढंग से नहीं दिया जा रहा।

मनप्रीत कौर (18) ने वीडियो वायरल कर भारत व पंजाब सरकार से उसकी रिहाई का प्रयास करने की अपील की है। मनप्रीत ने यह भी बताया है कि उसके साथ तीन और लड़कियां भी हैं, जो तरनतारन से हैं। मस्कट में वह कुछ व्यक्तियों के चंगुल में फंस चुकी है, जो दिन रात उनसे काम करवाते हैं, मारते-पीटते हैं और भूख लगने पर खाना भी नहीं देते। मनप्रीत अपने घर के हालातों को सुधारने के लिए ही विदेश गई थी, ताकि वह अपने परिवार का तीन लाख रुपए का कर्ज उतार सके।

एजेंट की मदद से गई थी विदेश

मनप्रीत कौर की मां कुलविंदर कौर ने बताया कि उनके पति की मौत तकरीबन 1 साल पहले हो गई थी। इलाज के लिए उन्हें तीन लाख रुपए कर्ज लेना पड़ा। मनप्रीत अपने पिता के इलाज के लिए खर्च किए गए तीन लाख रुपए का कर्ज उतारने ही विदेश गई थी। उसे नौशहरा पन्नुआ के एक एजेंट की मदद से पहले दुबई और फिर एजेंट की बहन व अन्य एक महिला की मदद से उसे मस्कट भेज दिया गया।

नहीं करवाते बेटी से बात

कुलविंदर कौर ने बताया कि उसकी बेटी के हालात ठीक नहीं हैं। उसे मारा-पीटा जाता है और खाना भी नहीं दिया जाता। उससे बात भी नहीं हो रही है। बात करवाने के लिए चंद मिनट का समय दिया जाता है। उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान से भी अपील की और तरनतारन के डीसी कार्यालय में भी उनकी बेटी को विदेश से वापस लाने के लिए मांग की है।