पंजाब से किसानों का दिल्ली कूच:रवाना होने से पहले दरबार साहिब में टेका माथा, पंजाब से जाएंगी करीब 1000 ट्रैक्टर ट्रालियां

अमृतसर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दिल्ली रवाना होने से पहले किसान दरबार साहिब नतमस्तक होने पहुंचे। - Dainik Bhaskar
दिल्ली रवाना होने से पहले किसान दरबार साहिब नतमस्तक होने पहुंचे।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीती 19 नवंबर को कृषि कानून वापस लेने का ऐलान किया। इस ऐलान के बाद सभी को लगा कि किसान आंदोलन भी समाम्त हो जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। किसान अब कृषि कानूनों की वापसी के बाद अपनी कुछ और मांगों को लेकर अड़ गए हैं। इसी बीच आज किसान संघर्ष मोर्चे के आह्वान के बाद पंजाब से किसानों का समूह दिल्ली के लिए रवाना हो रहा है।

दिल्ली रवाना होने से पहले दरबार साहिब में टेका माथा
दिल्ली रवाना होने से पहले किसानों ने सुबह दरबार साहिब में माथा टेका। इसके बाद तकरीबन 1000 के करीब ट्रैक्टर ट्रालियां पंजाब से दिल्ली की तरफ कूच करेंगी। कल तक यह पूरा किसानों का जत्था दिल्ली बॉर्डर पर पहुंच जाएगा। गौरतलब है कि भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत किसानों को दिल्ली इकट्‌ठा होने और 26 नवंबर से रोजाना 1000 किसानों को संसद की तरफ रवाना करने की घोषणा कर चुके हैं। इस घोषणा के बाद अब किसान दिल्ली रवाना होना शुरू हो गए हैं।

कई मुद्दों पर चर्चा करने की जरूरत
किसाना संघर्ष मोर्चा पंजाब के महासचिव स्वर्ण सिंह पंधेर ने किसानों के साथ दरबार साहिब में माथा टेकने के बाद कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीनों कानूनों को वापस लेने के लिए आज एजेंडा तैयार कर रहे हैं, लेकिन इसके अलावा तीन मुद्दों पर नरेंद्र मोदी पहले ही मान गए थे। जिन्हें भी संसद में पास करना जरूरी है। इसमें एक मिनिमम सेलिंग प्राइस पर बिल लाना, बिजली शोध बिल रद्द करना, प्रदूषण एक्ट से किसानों को बाहर रखना, किसानों पर दर्ज केसों को वापस लेना आदि मुद्दे हैं। इन पर बैठकर बात करने की जरूरत है। यह तभी संभव है, जब सरकार किसानों के साथ बैठकर बात करे।

1000 से अधिक ट्रैक्टर-ट्रॉलियां आज होंगी रवाना
पंधेर ने कहा कि वह आज दरबार साहिब में नतमस्तक होकर गुरुओं का आशीर्वाद प्राप्त करने आए हैं। इसके बाद किसान ब्यास पुलिस पर एकत्रित हो जाएंगे। ट्रालियां ब्यास पुल पर इकट्‌ठी हो रही हैं, जो आज दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगी। आज शाम किसान शाहबाद में रुकेंगे, इसके बाद सुबह फिर दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।

खबरें और भी हैं...