• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Amritsar
  • The Attackers First Asked Kandawalia The Address Of The Blood Bank, Then Turned Five Bullets Into The Skull As Soon As He Turned Back.

कंदोवालिया हत्याकांड:हमलावरों ने पहले कंदाेवालिया से ब्लड बैंक का पता पूछा फिर उसके पीछे मुड़ते ही खोपड़ी में मार दीं पांच गोलियां

अमृतसरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल के बाहर लगी राणा कंदोवालिया के समर्थकों की भीड़। - Dainik Bhaskar
अस्पताल के बाहर लगी राणा कंदोवालिया के समर्थकों की भीड़।
  • 3 दिन से हुंदल करा रहा था रेकी; कार से आए 4 हमलावरों में से 2 ने किए फायर
  • कंदोवालिया के साथी तेजबीर नंगली को दो गोलियां लगी, सिक्योरिटी गार्ड को एक, गार्ड खतरे से बाहर

गुरु का बाग के निकट कंंदोवालिया गांव निवासी गैंगस्टर रणदीप सिंह राणा कंदोवालिया की उस समय हत्या कर दी जब वे सर्कुलर रोड स्थित अस्पताल के आईसीयू में भर्ती अपनी रिश्तेदार का हालचाल जानने के लिए मंगलवार को पहुंच थे। हमलावरों ने ब्लडबैंक का पता पूछा और कंदोवालिया के पीछे मुड़ते ही उसे ताबड़तोड़ 7 गोलियां मारकर हत्या कर दी। अंदेशा है कि जेल में बंद पंजाब के गुरदासपुर से संबंधित गैंगस्टर ने अपने गुर्गे से रेकी कराके वारदात को अंजाम दिया है।

बदमाश तीन दिन से कंदोवालिया की रेकी कर रहे थे। मंगलवार को पूरी तैयारी के साथ वारदात को अंजाम देने पहुंचे। शाम 7 बजे अस्पताल के बाहर कार में सवार 4 लोग पहुंचे। दो कार में ही रहे और दो मास्क लगाकर अस्पताल में उस जगह पहुंचे जहां कंदोवालिया की रिश्तेदार आईसीयू में भर्ती थी।

यहां पहले से मौजूद कंदोवालिया से हमलावरों ने ब्लडबैंक का पता पूछा और कंदोवालिया के आईसीयू की ओर मुड़ते ही हमलावरों ने ताबड़तोड़ 7 गाेलियां मार दीं। 5 गोलियां कंदोवालिया के सिर और 2 उसकी पीठ पर लगीं। हमलावरों ने कंदोवालिया के साथी तेजबीर सिंह नंगली काे भी दो गाेलियां मारी, जो उसकी बाजू में जा धंसी। इसके बाद अस्पताल से बाहर भाग रहे हमलावरों ने गेट पर खड़े प्राइवेट कंपनी के सिक्योरिटी गार्ड को भी गोली मार दी।

गैंगस्टर हुंदल ने धमकियों का बदला लिया
अमृतसर के एक एसीपी ने बताया कि जांच में
पता चला है कि कंदोवालिया काे तरनतारन के गैंगस्टर हररोशन हुंदल ने गाेलियां मारी हैं। कंदोवालिया कुछ समय पहले तरनतारन में गैंगस्टर हुंदल के घर साथियों के साथ धमकाने पहुंचा था। इसी रंजिश में हुंदल ने साथियों से मिलकर कंदोवालिया की हत्या की है।

कमिश्नर समेत तमाम अफसर पहुंचे जायजा लेने
घटना की जानकारी मिलते ही फारेंसिक टीम के अलावा पुलिस कमिशनर डाॅ. सुखचैन सिंह गिल, डीसीपी परमिंदर सिंह भंडाल, डीसीपी मुखविंदर सिंह भुल्लर, एडीसीपी जुगराज सिंह, एडीसीपी हरजीत सिंह धालीवाल, एसीपी हरमिंदर सिंह संधू मौके पर पहुंचे।

हत्या के पीछे गैंगस्टर जग्गू का हाथ होने का भी अंदेशा
कंदोवालिया की हत्या के पीछे जेल में बंद पंजाब के गुरदासपुर जिले से संबंधित गैंगस्टर जगदीप सिंह जग्गू भगवानपुरिया का हाथ होने का अंदेशा है। जग्गू इससे पहले भी गैंगस्टर रणदीप सिंह राणा कंदोवालिया पर जानलेवा हमला कर चुका है।

जग्गू ने कंदोवालिया के साथी बब्बा की हत्या कराई थी
जग्गू ने कुछ वर्ष पहले गैंगस्टर संजीव बब्बा की हत्या की थी। संजीव बब्बा कंदोवालिया का करीबी था। इसके बाद गैंगस्टर जग्गू ने जेल में बंद रहते हुए अपने गुर्गे से कंदोवालिया के एक अन्य करीबी कांग्रेसी पार्षद गुरदीप पहलवान की हत्या कराई थी।

कंदोवालिया पर दर्ज हैं हत्या-हत्या प्रयास के 16 केस : कंदोवालिया पर हत्या और हत्या प्रयास के 16 मामले दर्ज हैं। कुछ समय पहले विक्की गाैंडर, दविंदर बंबीहा गैंग की तरनतारन में जग्गू भगवान पुरिया व सुक्खा काहलवां गैंग के साथ गैंगवार हुई थी। गैंगवार में दोनों गुटों के 1-1 गैंगस्टर की मौत हो गई थी। कंदोवालिया गौंडर गैंग का साथ देने के लिए भी गया था।

खबरें और भी हैं...